भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि, Indian Railway । भोपाल समेत देशभर में रेलवे विभाग ने स्‍टेशनों पर यात्रियों की ठहरने की सुविधा के लिए बने रिटायरिंग रूमों को दोबारा बंद कर दिया है। रेलवे विभाग ने मार्च में लॉकडाउन के साथ ही इन्हें बंद कर दिया था। कोरोना संक्रमण का असर कम हआ तो नवंबर 2020 के पहले सप्ताह में इन्‍हें चालू किया था। यात्रियों को इससे मदद मिल रही थी, क्योंकि किसी भी रेलवे स्टेशन पर रात में उतरने वाले जरूरतमंद यात्री रिटायरिंग रूमों में बुकिंग कर ठहर सकते थे। इससे उन्हें होटलों में ज्यादा शुल्क नहीं चुकाना पड़ता था। अब फिर से मप्र, दिल्ली समेत अन्य राज्यों में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इसे देखते हुए रेलवे विभाग ने रिटायरिंग रूम्‍स की बुकिंग बंद कर दी है। ऐसे में यात्रियों को रेलवे स्टेशनों पर ठहरने की सुविधा नहीं मिलेगी। यात्रियों को प्लेटफॉर्म और वेटिंग रूम में रात गुजार सकते हैं।

बता दें कि भोपाल रेल मंडल के भोपाल, हबीबगंज, इटारसी और बीना रेलवे स्टेशनों पर रिटायरिंग रूम की सुविधा है। ये रूम उन्हीं यात्रियों के मिलते हैं, जिनके पास यात्रा का वैध टिकट होता है। यात्री इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन आइआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर इन रूमों को बुक करा सकते हैं। वे यात्री इनका उपयोग अधिक करते हैं, जो किसी भी शहर के स्टेशन पर पहली बार आते हैं और उस शहर में संबंधित यात्रियों के कोई परिचित या रिश्तेदार नहीं रहते। कुछ यात्री होटलों के महंगे किराए से बचने के लिए भी रिटायरिंग रूम बुक करा लेते हैं। कोरोना संक्रमण के चलते अब इन्हें दूसरी बार बंद करना पड़ा है। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि रिटायरिंग रूम्‍स को तभी चालू किया जाएगा, जब कोरोना संक्रमण का प्रकोप पूरी तरह खत्म हो जाए।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस