भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी भोपाल में नगर नगम के कचरा वाहनों से डीजल चोरी रुकने का नाम नहीं ले रही है। आए दिन किसी न किसी वार्ड में कचरा वाहन से डीजल चोरी करते वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। मंगलवार को जोन-9 के एक कचरा वाहन से क्लीनर द्वारा डीजल चोरी करते हुए फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुए। अहम बात ये है कचरा वाहनों से चोरी छिपे नहीं, बल्कि खुली सड़क पर बिना किसी डर के दिनदहाड़े डीजल चोरी किया जा रहा था।

जानकारी के मुताबिक सड़क पर कचरा वाहन से ड्राइवर और क्लीनर को डीजल चोरी करते हुए स्थानीय लोगों ने देखा। जब लोगों ने निगम कर्मचारियों से पूछा कि डीजल चोरी क्यों कर रहे हो, तो उनका कहना था कि हमारी तनख्वाह बहुत कम है। घर चलाना मुश्किल होता है। हमें एएचओ को भी तनख्वाह से हिस्सा देना पड़ता है। इसकी वजह से हमें मजबूरी में डीजल चोरी करना पड़ता है। जबकि इस मामले में एएचओ रामरतन लोहिया का कहना है कि कर्मचारी झूठ बोल रहा है। उन्होंने दरोगा के साथ खुद मौके पर जाकर कर्मचारियों को डीजल चोरी करते हुए रंगेहाथ पकड़ा है। इसकी जानकारी विभागीय अपर आयुक्त को दी गई और उसके तत्काल बाद कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया गया।

लोहिया ने बताया कि एक स्थानीय निवासी मनोज जैन ने फोन पर वार्ड दरोगा को डीजल चोरी की सूचना देने के साथ ही फोटो भी भेजी थी। तब मैं दरोगा के साथ ही था। लिहाजा तत्काल मौके पर पहुंचे और गाड़ी में डीजल से भरी कुप्पी (केन) जब्त की। डीजल निकालने की वजह पूछने पर बताया कि अन्य गाड़ी वाले से डीजल उधार लिया था, जिसे लौटाना है। जब उनसे सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने डीजल चोरी करना स्वीकार कर लिया। इसके बाद दोनों को तुरंत नौकरी से हटा दिया गया है।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags