भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

एक उपभोक्ता ने फ्लिपकार्ट ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट से मोबाइल खरीदा, जो गारंटी अवधि में ही खराब हो गया। सर्विस सेंटर वालों ने मोबाइल ठीक नहीं किया। मामला जिला उपभोक्ता फोरम पहुंचा। फोरम ने टिप्पणी की है कि कंपनी द्वारा उपभोक्ता के मोबाइल में आई समस्या दूर न कर सेवा में कमी की गई है। फोरम ने दो माह के अंदर उसी कंपनी और उसी कीमत का नया मोबाइल या उसकी कीमत 9999 रुपए देने का आदेश दिया। साथ ही मानसिक क्षतिपूर्ति राशि 3 हजार और वाद व्यय राशि 2 हजार रुपए भी देना होगा। फैसला जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष आरके भावे व सदस्य सुनील श्रीवास्तव की बेंच ने सुनाया। अशोका गार्डन निवासी देवेंद्र कुमार बैन ने फ्लिपकार्ट, मोबाइल निर्माता कंपनी मुंबई स्थित एएसयूएस टेक्नोलॉजी प्रायवेट लिमिटेड और भोपाल स्थित कम्पूज इंफोकॉम लिमिटेड सर्विस सेंटर के खिलाफ जून 2015 में याचिका लगाई थी।

उपभोक्ता ने अक्टूबर 2014 को एएसयूएस कंपनी का 9999 रुपए में फ्लिपकार्ट शॉपिंग वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन मोबाइल खरीदा था। इस पर 1 वर्ष की गारंटी दी गई थी, लेकिल मोबाइल कुछ समय बाद ही खराब हो गया। अप्रैल 2015 में उपभोक्ता ने मोबाइल को सर्विस सेंटर पर सुधारने के लिए दिया। सेंटर ने 10 दिन मोबाइल अपने पास रखा और उसका सब बोर्ड बदलकर दे दिया। उपभोक्ता से 1570 रुपए सुधारने का चार्ज भी लिया, लेकिन मोबाइल की समस्या दूर नहीं हुई। उपभोक्ता सर्विस सेंटर पर तीन बार मोबाइल ले गया, लेकिन वह नहीं सुधरा। इसके बाद जिला उपभोक्ता फोरम में केस दायर कर दिया।