Shivraj Cabinet : भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। राजभवन में नए मंत्रियों की शपथ ग्रहण के बाद मंत्रालय में विस्तारित शिवराज कैबिनेट की पहली औपचारिक बैठक हुई। इसमें मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को हिदायत दी, 'हर सोमवार को विभागों की समीक्षा करें। मंगलवार को कैबिनेट बैठक होगी। इसके लिए अच्छे से तैयारी करें। समय व्यर्थ न गंवाएं। परिश्रम की पराकाष्ठा करें। न तो मैं चैन से बैठूंगा और न ही आपको लोगों को बैठने दूंगा। हम सब मिलकर मध्य प्रदेश के विकास की इबारत लिखेंगे।'

मंत्रालय में गुरुवार दोपहर 12.30 बजे से हुई कैबिनेट बैठक करीब एक घंटे चली। इस दौरान सभी सदस्यों का वरिष्ठ अधिकारियों से परिचय कराया गया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रियों को संबोधितत करते हुए कहा कि हमने सरकार एक परिवार की तरह चलाई है और आगे भी एक परिवार की तरह ही हम सब मिलकर काम करेंगे। विभागों का बंटवारा जल्द कर दिया जाएगा। उन्होंने मंत्रियों से यह भी कहा कि काम पूरी पारदर्शिता और प्रामाणिकता के साथ हो। बहुत काम करें और तनाव न लें। अपने लिए भी थोड़ा वक्त जरूर निकालें।

इस दौरान मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने कोरोना संकट के मद्देनजर सरकार द्वारा उठाए गए कदमों को लेकर प्रस्तुतिकरण दिया। साथ ही यह भी बताया गया कि प्रवासी श्रमिकों को गांवों में ही रोजगार दिलाने के लिए देश में सबसे पहले प्रामाणिक सर्वे कराया और रोजगार सेतु पोर्टल बनाकर योग्यता अनुसार रोजगार दिलाने का मंच तैयार किया गया है। अन्य प्रांतों के श्रमिकों को उनके गृह राज्य पहुंचाने के लिए सीमावर्ती जिलों तक बसों के इंतजाम से लेकर भोजन व्यवस्था तक की गई। बिजली बिलों में छूट, सार्वजनिक वितरण प्रणाली के हितग्राहियों को निश्शुल्क राशन के साथ उद्योगों को भी राहत दी गई। हर क्षेत्र के लिए मौजूदा आर्थिक हालातों को देखते हुए निर्णय लिए गए।

कोरोनाकाल है, स्वागत न कराएं

मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को समझाइश दी कि कोरोनाकाल चल रहा है। इस दौरान एहतियात बरतें। स्वागत न कराएं और भीड़ भी न लगाएं। बैठक में भी शारीरिक दूरी का पालन करते हुए दूर-दूर कुर्सियां लगाई गईं। बैठक के बाद मंत्रालय में ही सभी मंत्रियों ने भोजन भी किया।

कैबिनेट में मंत्रियों को बांटे फोल्डर

प्रदेश सरकार ने सौ दिन में क्या-क्या काम किए हैं, इसको लेकर सभी मंत्रियों को फोल्डर बांटे गए। इसमें कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए उठाए कदमों के साथ सौ दिन में लिए गए निर्णय और बजट व्यवस्था से जुड़ा साहित्य दिया गया।

विभागों के बंटवारे तक पुरानी बैठक व्यवस्था

मंत्रालय एनेक्सी बनने के बाद मंत्रियों के बैठने की व्यवस्था अब विभागों के साथ होने लगी है। जब तक मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा नहीं हो जाता है, तब तक के लिए सभी मंत्रियों को वल्लभ भवन क्रमांक एक में पांचवें तल पर कक्ष आवंटित किए गए हैं। पिछली शिवराज सरकार में जो मंत्री जहां बैठते थे, सामान्य प्रशासन विभाग ने उन्हें वही कक्ष दिए गए हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020