भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। 64वीं राष्ट्रीय रायफल शूटिंग चैंपियनशिप का गुरूवार को राज्‍य शूटिंग अकादमी बिसनखेड़ी में प्रारंभ हो गई है। इस शूटिंग महाकुंभ के पहले दिन खिलाडि़यों ने रजिस्‍ट्रेशन कराए और जमकर अभ्‍यास किया। शूटिंग रेंज का नजारा खेलगांव की तरह नजर आ था। चारों तरफ देश के होनहार खिलाडी अपने कोच, प्रशिक्षक के साथ नजर आ रहे थे। देश के सबसे आधुनिक शूटिंग रेज में अधिकांश खिलाड़ी पहली बार आए थे, उन्‍होंने अकादमी में उपलब्‍ध सुविधाओं की दिल खोलकर तारीफ की। इस चैंपियनशिप में चैंपियनशिप में देशभर की 41 यूनिट के कुल 3524 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इनमें 6 अर्जुन अवार्डी खिलाड़ी भी शामिल है। चैंपियनशिप में 10 और 50 मीटर के इवेंट खेले जाएंगे।

खेल और युवा कल्याण विभाग एवं भारतीय राष्ट्रीय रायफल संघ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित हो रही इस चैंपियनशिप का शुभारंभ मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस 50 मीटर रेंज में निशाना साधकर किया। उन्होंने अकादमी की भव्यता की प्रशंसा भी की। इसके साथ ही उन्होंने 25 मीटर, 10 मीटर और शॉटगन रेंज का भी अवलोकन किया। उन्होंने स्कीट शूटिंग भी की।

50 एकड़ जमीन पर बनेगा स्पोट्रस कॉम्प्लेक्स

मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने कहा कि शूटिंग अकादमी को देखकर इस बात को समझा जा सकता है कि कमिटमेंट किसे कहते हैं। मध्यप्रदेश ने खेलों के क्षेत्र में कई उपलब्धियां हासिल की हैं। हमारे खिलाड़ी ओलंपिक में प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। आज विश्व स्तरीय शूटिंग रेंज हमारे पास है। चैंपियनशिप के लिए इतने खिलाड़ियों को एक साथ देखकर खुशी की अनुभूति हो रही है। उन्होंने शूटिंग अकादमी के सामने की लगभग 50 एकड़ जमीन पर अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्पोटर्स कॉम्प्लेक्स बनाए जाने की भी घोषणा की। इसमें इंडोर फुटबॉल, हॉकी खेलों के साथ स्पोर्ट्स साइंस सेंटर की भी सुविधा होगी।

15 वर्षों की मेहनत रंग लाई

कार्यक्रम की अध्‍यक्षता खेलमंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने की। उन्‍होंने भागीदारी के लिए पहुंचे सभी खिलाड़ियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि हमने पिछले 15 वर्षों से इसके पीछे मेहनत की है और यह अब रंग ला रही है। मेजबानी के लिए भारतीय राष्ट्रीय रायफल एसोसिएशन को धन्यवाद दिया। हमारी अकादमी का स्वरूप अंतरराष्ट्रीय स्तर का हो चुका है। उन्होंने खिलाड़ियों से कहा कि हमारी चिंकी यादव, मनीषा कीर, ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर जैसे खिलाड़ी आप भी बन सकते हैं। इसके लिए अपने अंदर एक आग जलाकर रखना होगी।

अकादमी अपने आप में एक मिसाल सुल्तान सिंह

भारतीय राष्ट्रीय रायफल एसोसिएशन के सेक्रेटरी जनरल कुवंर सुल्तान सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश शूटिंग अकादमी अपने आप में एक मिसाल है। अन्य राज्यों को इसी तर्ज पर शूटिंग रेंज और सुविधाएं विकसित करना चाहिए। यह अकादमी शूटिंग के लिए एक निर्धारित डेस्टिनेशन बन गया है। इस मौके पर ज्वाइंट सेक्रेटरी जनरल पवन सिंह, सेक्रेटरी राजीव भाटिया, प्रमुख सचिव खेल दीप्ति गौड़ मुखर्जी तथा संचालक खेल रवि कुमार गुप्ता, शूटिंग अकादमी के हाई परफॉर्मेंस कोच मनशेर सिंह और सुमा शिरूर विशेष रूप से उपस्थित रहे।

खिलाड़ियों ने किया अभ्यास

चैंपियनशिप में पहले दिन खिलाड़ियों ने रजिस्ट्रेशन कराया। इसके बाद उन्होंने शूटिंग रेंज में अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया। चैंपियनशिप में देशभर की 41 यूनिट के 3524 महिला और पुरूष खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। रायफल के पुरूष खिलाड़ियों की संख्या 2202 तथा महिला खिलाड़ियों की संख्या 1301 है। चैम्पियनशिप में 18 साल से कम पुरूष खिलाड़ियों की संख्या 706 तथा महिला खिलाड़ियों की संख्या 504 है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local