भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल में चंबल से दुर्लभ प्रजाति के कछुओं को लाकर बेचा जा रहा है। इस बात के सुराग नौ कछुओं के साथ पकड़ाए तस्कर उजेफा बोहरा से बुधवार को हुई पूछताछ में मिले हैं। तस्कर के साथ और भी कई बड़े लोग जु़ड़े हुए हैं जो दुर्लभ प्रजाति के कछुओं की तस्करी कर रुपये कमा रहे हैं। अब उक्त तस्कर से दो दिन तक पूछताछ की जाएगी। कोर्ट ने इसके लिए उसकी दो दिन की रिमांड दी है।

भोपाल सामान्य वन मंडल के उड़नदस्ता अमले ने मंगलवार आंचलिक विज्ञान केंद्र के पास से करोंद निवासी उजेफा बोहरा को पकड़ा है। उसके पास से नौ कछुए मिले हैं। इनमें से आठ स्टार टर्टल और एक टेक्टा-टेक्टा प्रजाति का है। आरोपित को बुधवार जिला कोर्ट में पेश किया था, जहां से उसकी दो दिन की रिमांड मिली है।

जांच अधिकारियों ने बताया कि कछुए सुंदर दिखते हैं इसलिए कुछ लोग इन्हें घर में पालने के आदि हो गए हैं। कुछ तो इन्हें घर में रखना शुभ मानते हैं, इसलिए इनकी तस्करी की जा रही है। सूत्रों के मुताबिक आरोपित ने कुछ बड़े लोगों के नाम भी बताएं हैं। यह भी बताया कि ये कछुए किसी दूसरे ने चंबल से लाए थे और वह सप्लाई करने जा रहा था। अब वन विभाग को कछुआ लाने वाले और कछुओं को घर में मंगाने वालों की तलाश है।

कछआ तस्करी का गढ़ रहा है भोपाल

राजधानी भोपाल पहले से कछुआ तस्करी का गढ़ रहा है। डेढ़ साल पहले भी 23 कछुएं भोपाल स्टेशन पर लावारिस मिले थे। काफी पूछताछ पर उन्हें यूपी से ट्रेन के जरिए भोपाल पहुंचाया गया था। कछुआ लेकर एक युवक आया था। बाद में उसकी मां भी मिली थी और बड़ा खुलासा हुआ था।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020