भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। वन विहार नेशनल पार्क में मंगलवार को सांपों का विशेष इलाज किया गया। पशु चिकित्सक डॉ. अतुल गुप्ता ने दो सापों के मुंह खोले। सपेरों ने इनके मुंह पक्के धागों से सिल दिए थे। इसके अलावा दो सापों के मुंह से निकाली गई अधूरी विष झिल्ली व आधे-अधूरे तोड़े दांतों को ठीक से निकाला गया। नागपंचमी के दिन सोमवार को शहर से 18 सांप पकड़े गए थे। इनमें कोबरा और पनियल प्रजाति के सांप थे।

नागपंचमी के दिन सपेरे सांपों को लेकर शहर में घूम रहे थे। वन विभाग ने इन सपेरों को पकड़कर सापों को मुक्त कराया है। इनमें से तीन सांपों के मुंह सोमवार को ही वनकर्मियों ने खोल दिए थे। मंगलवार को दो और सांपों के मुंह डॉ. गुप्ता ने खोले। इनके मुंह पक्के धागे से सिले हुए थे, इस कारण वनकर्मी इनका मुंह खोल नहीं सके थे।

डॉ. गुप्ता ने बताया कि अन्य दो सांपों के दांत टूटे व विष झिल्ली निकली मिली है। सपेरों ने इन्हें आधे-अधूरे निकाला था। जिन्हें ठीक से और पूरी तरह निकाला गया। पार्क के प्रभारी डायरेक्टर व सीसीएफ डॉ. एसपी तिवारी व डिप्टी डायरेक्टर अशोक कुमार जैन की मौजूदगी में दो घंटे तक सांपों का इलाज चला। 13 सांप जांच में स्वस्थ मिले हैं। डिप्टी डायरेक्टर जैन ने बताया कि सापों को देखरेख में रखा जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket