भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। पूंजीवाद ने विज्ञान के क्षेत्र में चमत्कार किया है, लेकिन मुनाफे की भूख ने असमानता की गहरी खाईं पैदा कर दी है। जिसने भी इस दुनिया में जन्म लिया है, उसे जीने का हक है। रहने को मकान, आत्मसम्मान की रोटी, काम कम ज्यादा फ़ुर्सत। अपराध को जन्म देने वाली व्यवस्था का नाश करना समाज की जिम्मेदारी है। इस तरह के क्रांतिकारी विचारों के साथ ही बेरोजगारी, शोषण, गरीबी, भुखमरी, असमानता, पूंजीवाद की क्रूरता जैसे ज्वलंत सवालों के साथ दर्शकों को झकझोरता है नाटक "सोहो में मार्क्स", जिसका रविवार शाम दुष्यंत कुमार स्मारक पांडुलिपि संग्रहालय में मंचन हुआ। कबीर राजौरिया के निर्देशन में भारतीय जननाट्य संघ, इप्टा की इस प्रस्तुति को देख दर्शक रोमांचित नजर आए।

मार्क्स के पात्र में अनुपम तिवारी ने अपने उम्दा अभिनय और संवाद अदायगी से दर्शकों को बांधे रखा। 1999 में हावर्ड जिन के लिखे नाटक का पात्र मार्क्स की भूमिका में कहता है कि मेरे आलोचक कहते हैं कि मार्क्स मर चुका है। अब उसके विचारों की कोई जरूरत नहीं, लेकिन दुनिया का क्या हाल है? क्या दुनिया बदल गई? नहीं। डेढ़ सौ साल पहले जो समस्याएं थीं, आज भी हैं। शोषकों और पूंजीपतियों के बीच संघर्ष जारी है। आमजन जीवन बचाने की जद्दोजहद में जूझ रहा है। अंतिम क्षणों तक नाटक अपनी गति में एक लय के साथ बढ़ा। कबीर के म्यूजिक ने इसमें नई ऊर्जा भरने का काम किया। यह नाटक मार्क्स के जीवन व संघर्ष पर प्रकाश डालने के साथ ही सोचने पर विवश करता है कि दुनिया अंधेरे की तरफ़ बढ़ रही या रोशनी की तरफ़? इस प्रस्‍तुति के दौरान सौरभ झा ने लाइट का संयोजन किया। यह इस नाटक की दसवीं प्रस्तुति थी।

कार्यक्रम की शुरुआत रंगकर्मी बंसी कौल को श्रद्धांजलि अर्पित करने के साथ हुई। इस दौरान इप्टा, अशोक नगर के साथी सौरभ झा, सत्यभामा राजौरिया और समीक्षा दुबे द्वारा क्रांतिकारी जनगीत प्रस्तुत किया गया।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags