Sports News:भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। परा विश्‍व ओलिंपिक के रोमांच में डूबा है, इसी बीच एक संस्‍था 'स्पोर्ट्स ए वे ऑफ लाईफ’ के माध्यम से ओलम्पिक से सम्बन्धित खेलों को भारत के गांव-गांव तक पहुंचाने की मुहिम में जुटा हुआ है। बुधवार को देश में पहली बार खेल साक्षरता प्रसार वाहन की भारत यात्रा भोपाल पहुंची है।

इस संस्‍था ने 2017 से देश में खेल को बढ़ावा देने के लिये खेल साक्षरता अभियान चला रही है। खेल साक्षरता प्रसार वाहन इस दिशा में एक पहल है। गाजियाबाद से शुरू होकर प्रदेश के सैंकड़ों गांवों, दर्जनों कस्बों और कई जिलों में होते हुये प्रथम चरण में अपनी यात्रा का समापन लखनऊ में किया था। इस यात्रा को देश के विख्यात पूर्व ओलम्पिंयस, अर्जुन पुरस्कार विजेता तथा द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेताओं की उपस्थिति में रवाना किया था।

लखनऊ पहुंचने पर उप्र के उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश चन्द शर्मा ने ‘‘स्पोर्ट्स ए वे ऑफ लाईफ’ के खेल साक्षरता प्रसार वाहन को दूसरे चरण में भोपाल के लिए रवाना किया था। बुधवार को यह वाहन सागर, विदिशा होते हुए भोपाल पहुंचा। भोपाल में संस्था की टीम कलेक्‍टर अविनाश लवानियां खेलों को बढ़ावा देने के ज्ञापन सम्बन्ध में सौंपा गया। अर्जुन अवार्डी ओलिंपियन सैयद जलालुद्दीन रिजवी ने इस वाहन का स्वागत किया। साथ ही क्षेत्र के बच्चों ने खेल साक्षरता को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संस्‍था के अध्‍यक्ष डा. कनिष्क पाण्डेय से संवाद किया। श्री रिजवी ने कहा खेलों को जन-जन तक पहुंचाने का इतना वैज्ञानिक एवं गंभीर प्रयास पहली बार हो रहा है। यह बहुत ही अच्छा मिशन है, जिसके तहत जो किताबे वितरित की जा रही हैं। वाहन बंगरसिया पहुंचा। गांव में बच्चों, बजुर्गो तथा वृद्धों सभी ने खेल साक्षरता वाहन को लेकर काफी उत्साह देखा गया। इस गांव के बच्चों ने हाकी स्टिक दिखाकर इस वाहन को आगे के लिये रवाना किया।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local