Swachh Survekshan 2020 भोपाल। स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के तहत भोपाल में पांच सर्वे टीम ने करीब एक दर्जन वार्डों का निरीक्षण कर व्यवस्था का जायजा लिया। इसमें जोन क्रमांक 3, 4, 5 व 8 में आने वाले वार्डों की साफ सफाई और डिस्पोजेबल प्लास्टिक के इस्तेमाल के बारे में फीडबैक लिया। हर वार्ड में 50-50 पॉजिटिव और नेगेटिव सभी तरह के फीडबैक लेने के बाद इसकी रिपोर्ट भी दिल्ली भेजी। सर्वे टीम ने जोन-4 में आने वाले सराफा, आजाद चौक और जुमेराती मार्केट सहित आसपास सात घंटे तक दौरा किया। इस दौरान टीम ने दुकानदारों से भी बातचीत की। टीम के सवाल पर व्यापारी बोले कि 100 रुपए की पॉलीथिन के लिए वे एक लाख रुपए का जुर्माना नहीं भर सकते हैं। इसके चलते वे सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करते हैं। इधर, टीम ने आसपास के घरों में फीडबैक लिया। इस दौरान रहवासियों ने टीम को बताया कि गीला व सूखा कचरा रखने के लिए वे अलग-अलग डस्टबिन का उपयोग करते हैं। वहीं कचरा गाड़ी भी समय पर आती है।

वार्ड 33 में चकाचक मिली साफ-सफाई : जोन-आठ के वार्ड 33 का सर्वे करने के दौरान करीब तीन घंटे तक टीम यहां रुकी रही। इसके साथ ही टीम ने जोन-3 के वार्डों के साथ ही जोन-4 के वार्ड 15, 16, 17, 18 और 20 का जायजा लिया। सभी वार्डों में टीम ने पांच-पांच लोगों से फीडबैक लिया। लोगों ने मिलाजुला फीडबैक दिया। वहीं, पॉलीथिन और डिस्पोजेबल सिंगल यूज प्लास्टिक इस्तेमाल से लोगों ने साफ इंकार कर दिया। सुबह सर्वे टीम 10:30 बजे पहुंची और एक बजे तक वार्ड 33 में सर्वे किया।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस