Today In Bhopal: भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। देश-प्रदेश के साथ-साथ शहर में अब लगभग तमाम गतिविधियां पुन: शुरू हो चुकी हैं। विभिन्‍न जगहों पर नए-नए आयोजन हो रहे हैं और लोग घूमने के लिए बाहर निकल रहे हैं। किंतु आप यह भी न भूलें कि कोरोना संक्रमण का खतरा कायम है। ऐसे में हमारी यही सलाह है कि घर से बाहर निकलते समय मास्क का उपयोग अवश्‍य करें और सुरक्षित शारीरिक दूरी बनाकर चलें। आप कहीं भी जाएं, कोरोना गाइडलाइन का पूर्णत: पालन करें। यहां हम आपको रविवार 24 जनवरी को शहर में होने वाले कुछ कार्यक्रमों की जानकारी दे रहे हैं। इससे आपको अपनी दिन की कार्ययोजना बनाने में आसानी हो सकती है।

- गमक श्रृंखला के अंतर्गत रवींद्र भवन में रविवार को महान साहित्यकार जयशंकर प्रसाद की विशिष्ट कृति 'कामायनी' पर आधारित प्रस्तुति होगी। इसका समय दोपहर 1:30 बजे है। रूपवाणी वाराणसी की ओर से प्रस्तुत इस काव्य नाट्य का निर्देशन व्योमेश शुक्ल करेंगे। प्रस्तुति की अवधि एक घंटा है। प्रवेश निश्‍शुल्क है।

- इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में मां नंदा देवी राजजात हिमालय की देवी की अनुष्ठानिक विदाई पर केंद्रित प्रदर्शनी लगाई गई है, जिसे सुबह 11 बजे से देखा जा सकता है।

कलश यात्रा : पुष्पा नगर श्रीमद्भागवत कथा के पहले दिन दोपहर एक बजे से कलश यात्रा निकाली जाएगी।

श्रीराम कथा : अवधपुरी राधाकुंज स्थित हनुमान मंदिर में श्रीराम कथा के पांचवें दिन दोपहर दो बजे प्रभु श्रीराम का मिथिला आगमन व धनुष यज्ञ का आयोजन होगा।

परिचय सम्मेलन : तुलसी नगर स्थित नर्वदीय भवन में अखिल भारतीय बौद्ध युवक-युवती परिचय सम्‍मेलन सुबह 10 बजे से आयोजित किया जाएगा।

नौ कुंडीय महायज्ञ: अशोक बिहार स्थित मां दुर्गा शक्तिपीठ धाम में नौ कुंडीय महायज्ञ का आयोजन दोपहर दो बजे से

फिल्म प्रदर्शन : शौर्य स्मारक में सैन्य फिल्म 'कैप्टन महेंद्रनाथ' मुल्ला का प्रदर्शन शाम छह बजे से किया जाएगा।

हैंडलूम एक्सपो : मृगनयनी एंपोरियम द्वारा देश-प्रदेश के बुनकरों को विपणन सहायता उपलब्ध कराने हेतु गौहर महल में दो फरवरी तक स्पेशल हैंडलूम एक्सपो का आयोजन किया जा रहा है। उक्त आयोजन में 11 राज्यों के बुनकर आए हुए हैं। समय प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से रात नौ बजे तक रहेगा।

हुकुम सिंह विकल स्मृति सम्मान समारोह : श्री मित्रकला संगम सांस्कृतिक एवं साहित्यिक संस्था भोपाल के तत्वावधान में 24 जनवरी को दोपहर दो बजे से हुकुम सिंह विकल स्मृति सम्मान समारोह 2021 का आयोजन दुष्यंत कुमार पांडुलिपि संग्रहालय में किया जा रहा है।

सिल्क इंडिया प्रदर्शनी : कम्युनिटी हॉल, बिट्टन मार्केट में विभिन्न राज्यों के बुनकर हैंडलूम सिल्क साड़ियों की श्रृंखला लेकर आए हुए हैं। ओडिशा आर्ट एंड क्रॉफ्ट की ओर से आयोजित इस प्रदर्शनी में सुबह साढ़े दस से रात साढ़े आठ बजे तक खरीदी की जा सकती है।

चित्र प्रदर्शनी : शौर्य स्मारक में नेताजी सुभाष चंद्र बोस पर आधारित प्रदर्शनी सुबह 11 बजे से देखी जा सकती है। भारत भवन में मप्र के दृश्यों पर आधारित जलरंग कला प्रदर्शनी को दोपहर दो बजे से देखा जा सकता है। इसी प्रकार मध्य प्रदेश जनजातीय संग्रहालय की लिखंदरा दीर्घा में भील समुदाय की युवा चित्रकार कामता ताहेड़ के चित्रों की प्रदर्शनी 'शलाका 10" सुबह 11 बजे से देखी जा सकती है।

माह का प्रादर्श : इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में प्रत्यक्ष माह के प्रादर्श समृद्धि का प्रतीक 'परा" को सुबह 11 बजे से देखा जा सकता है।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags