भोपाल। नवदुनिया स्टेट ब्यूरो। सात साल बाद होने जा रहे मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष के दावेदारों में तीन विधायक भी शामिल हैं। विपिन वानखेड़े हाल ही में हुए उपचुनाव में आगर से विधायक चुने गए हैं। वहीं, सतना से विधायक सिद्धार्थ कुशवाह और शहपुरा से विधायक भूपेंद्र सिंह मरावी ने भी अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी की है।

इनके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के पुत्र विक्रांत भूरिया, पूर्व मंत्री लाखनसिंह यादव के भतीजे संजय यादव, पूर्व मंत्री यादवेंद्र सिंह के पुत्र शाश्वत बुंदेला भी मैदान में हैं। मंगलवार और बुधवार को एक बार फिर से नामांकन का मौका दिया गया है। सात से 15 दिसंबर के बीच में ऑनलाइन चुनाव कराया जा सकता है। केंद्रीय संगठन की टीम एक-दो दिन में भोपाल पहुंचेगी।

सूत्रों के मुताबिक युवा कांग्रेस के 2018 में चुनाव प्रस्तावित थे लेकिन विधानसभा चुनाव की वजह से प्रदेश कांग्रेस की मांग पर केंद्रीय संगठन ने चुनाव स्थगित कर दिए थे। तब से ही युवा कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव टलते जा रहे थे। कांग्रेस सरकार के समय प्रदेश अध्यक्ष मनोनीत करने की कवायद भी हुई थी लेकिन फिर सरकार अल्पमत में आ गई और मुख्यमंत्री कमल नाथ को इस्तीफा देना पड़ा। इससे सभी समीकरण बदल गए और अब संगठन चुनाव की प्रक्रिया एक बार फिर शुरू हो गई है। पिछली प्रक्रिया में प्रदेश अध्यक्ष पद के 17 दावेदार थे।

इनमें से से दो कांग्रेस छोड़ चुके हैं। इनमें से कुछ की आयु भी 35 साल से अधिक हो गई है लेकिन इन्होंने आवेदन पहले ही कर दिया और दो साल चुनाव नहीं हुए, इसलिए इन्हें चुनाव लड़ने की पात्रता दी गई है। बताया जा रहा है कि दिग्विजय सरकार में वाणिज्यिक कर मंत्री रहे नरेंद्र नाहटा के पुत्र शोमिल नाहटा भी चुनाव मैदान में हैं। इसके अलावा एकता ठाकुर राष्ट्रीय सचिव हैं तो मनीष चौधरी उत्तर प्रदेश के संगठन प्रभारी हैं। पिंकी मुदगल और वंदना बेन जबलपुर की हैं। विवेक त्रिपाठी एनएसयूआइ के प्रदेश प्रवक्ता हैं।

बताया जा रहा है कि एनएसयूआइ की बड़ी टीम अब युवा कांग्रेस में आ रही है। इसके मद्देनजर माना जा रहा है कि मुकाबला दिलचस्प होगा। चुनाव प्रभारी मकसूद मिर्जा ने बताया संगठन चुनाव की पूरी तैयारी हो चुकी है। दो दिन और नामांकन का मौका दिया गया है।

इसके बाद नामांकन पत्रों का परीक्षण करके प्रतीक चिन्ह आवंटित किए जाएंगे। चुनाव सात से 15 दिसंबर के बीच कराए जा सकते हैं। मतदान ऑनलाइन होगा। सदस्यता के समय जो मोबाइल नंबर दिया गया हो, ओटीपी उस पर आएगा और इसके आधार पर ही मतदान होगा।

सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़ चुके हैं दो दावेदार

सूत्रों के मुताबिक युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद के दो दावेदार कांग्रेस छोड़ चुके हैं। इनमें हर्षित गुरू और पवन जायसवाल शामिल हैं। इन दोनों ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने पर इस्तीफा दे दिया था। प्रदेश संगठन ने बताया कि दोनों ने अध्यक्ष पद के लिए आवेदन किया था।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस