भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना की तीसरी लहर का प्रकोप खत्‍म होने के बाद भोपाल में विभिन्‍न सामाजिक, धार्मिक, सांस्‍कृतिक कार्यक्रम फिर से होने लगे हैं। हालांकि बीते कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। ऐसे में बेहतर यही है कि कोरोना के प्रति हरदम सतर्क रहा जाए। आप कहीं भी जाएं, मास्क पहनने के साथ शारीरिक दूरी के नियम का पालन करते हुए स्वयं भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें। रविवार 15 मई को भी शहर में कई ऐसे आयोजन हैं, जिनका आप आनंद उठा सकते हैं। यहां हम कुछ ऐसे ही चुनींदा कार्यक्रमों की जानकारी पेश कर रहे हैं, जिसे पढ़कर आपको अपनी दिन की कार्ययोजना बनाने में आसानी होगी।

कलशारोहण महोत्‍सव : कोलार जिनालय में तीन दिवसीय चौंसठ रिद्धि विधान एवं कलशारोहण महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। आज इसका दूसरा दिन है। धार्मिक अनुष्‍ठान कार्यक्रम सुबह आठ बजे से शुरू होंगे।

रक्‍तदान शिविर - श्रीजी मंदिर लखेरापुरा में जगतगुरु वल्लभाचार्य महाप्रभु जी के 545वां प्राकट्य उत्सव समारोह के मौके पर रक्तदान शिविर का आयोजन सुबह नौ बजे से।

माह का प्रादर्श : इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय के अंतरंग भवन वीथि संकुल में मंडला का पारंपरिक मुखौटा 'खेखड़ा' का प्रदर्शन सुबह 11 बजे से।

चित्र प्रदर्शनी : मप्र जनजातीय संग्रहालय की लिखंदरा दीर्घा में भील चित्रकार शांता भूरिया के चित्रों की प्रदर्शनी सुबह 11 बजे से देखी जा सकती है।

श्रीराम कथा - पांच नंबर शिवाजी नगर हनुमान मंदिर में श्रीराम कथा का आयोजन दोपहर दो बजे से।

आशा : अशिमा अनुपमा माल में दोपहर तीन बजे से 'आशा' के तहत जरूरतमंद बच्चों को किट वितरित की जाएगी। इसका आयोजन आरोह संस्‍था द्वारा किया जा रहा है।

उद्बोधन : औरो मंदिर, तुलसी नगर में श्री अरंविंद के महाकाव्य 'सावित्री' पर वार्ता और डाक्टर अजित वर्मा का उद्बोधन शाम 6 बजे से। इसका आयोजन श्री अरविंद सोसायटी द्वारा किया जा रहा है।

पुस्तक विमोचन : स्वराज भवन में घनश्याम सक्सेना के उपन्यास का विमोचन और पुस्तक चर्चा शाम 05 बजे से। इसका आयोजन अखिल भारतीय साहित्य परिषद द्वारा किया जा रहा है।

नाटक : शहीद भवन में रंग माध्यम नाट्य संस्था द्वारा विकास वर्मा के निर्देशन में शाम 07 बजे से नाटक 'अंतरात्मा का अध्यक्ष' का मंचन।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local