ट्रायल में 134 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ी ट्रेन

भोपाल (नप्र)। हबीबगंज से बीना के बीच बिछाई जा रही तीसरी रेल लाइन के सूखी-दीवानगंज सेक्शन में अगले महीने से ट्रेनें चल सकती हैं। रेल संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) चेतन बख्शी की मौजूदगी में मंगलवार व बुधवार को ट्रायल पूरा होने के बाद आयुक्त ने ट्रेन संचालन की मौखिक अनुमति दे दी है। इस सेक्शन में फिलहाल 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनें चलेंगी।

करीब 16 किमी के इस सेक्शन में बुधवार को चार डिब्बों वाली ट्रेन चलाई गई। इसमें एसी1 कोच, जनरल कोच, आयुक्त और इलेट्रिकल विभाग के अधिकारियों का डिब्बा लगा था। डब्ल्यूएपी 5 का इंजन लगाकर 134 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक ट्रेन को दौड़ाया गया। हालांकि, ट्रायल के लिए अनुमति 120 किमी प्रति घंटे की ली गई थी। कुछ छोटी कमियों को छोड़ सभी काम दुरुस्त मिले हैं। सीआरएस की लिखित अनुमति मिलने के बाद नान इंटरलाकिंग (एनआई) का काम चालू होगा। इसमें करीब 10 दिन लगेंगे। इस तरह जनवरी से करीब 16 किमी का यह सेक्शन शुरू होने के आसार हैं। रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) और रेलवे ने 22 अक्टूबर को इस सेक्शन में 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से इंजन दौड़ाकर ट्रायल किया था।

ये मिलीं कमियां

-तीसरी लाइन तो बना दी गई, लेकिन इसके लिए जरूरी कर्मचारियों की भर्ती नहीं की गई। इसमें अधिकतर पद सेफ्टी कैटेगरी के हैं। इस पर सीआरएस ने भोपाल मंडल के अधकारियों का फटकार लगाई।

- महुआ नाले के पास बने पुल का काम गुणवत्ता पूर्ण नहीं मिला।

-पटरियों को जोड़ने के लिए की गई बिल्डिंग की क्वालिटी अच्छी नहीं मिली।

- ओवर हेड इलेक्ट्रिक (ओएचई लाइन) की अर्थिंग सही नहीं पाई गई।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local