भाेपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। रंगमहल सिनेमा के पास से शुक्रवार सुबह रहस्यमय ढंग से लापता हुए जुड़वा नवजात शिशुओ का अभी तक काेई सुराग नहीं मिला है। बच्चाें की मां के घर से निकलने के बाद रंगमहल तक पहुंचने के मार्ग के चप्पे–चप्पे की पुलिस तलाशी ले चुकी है, लेकिन काेई सफलता नहीं मिली। शनिवार काे पुलिस काे पुराने हबीबगंज थाने के पास बच्चाें के कपड़े जरूर पड़े मिले हैं। उधर स्वजन द्वारा महिला काे झाड़- फूंक के लिए मायके ले जाने के कारण उससे पूछताछ भी नहीं हाे सकी है।

टीटी नगर थाना पुलिस के मुताबिक मूलत: ग्राम साेहाया, बैरसिया निवासी 27 वर्षीय सपना धाकड़ की शादी काेलार गेस्ट हाउस के पास रहने वाले बृजमाेहन धाकड़ से हुई थी। सपना ने सात सितंबर काे जुड़वा बच्चाें काे जन्म दिया। शुक्रवार सुबह महिला ने टीटी नगर थाने में बताया था कि वह रंगमहल चौराहे के पास सुलभ शौचालय में गई थी। बच्चाें काे बाहर छाेड़ दिया था। शौचालय से बाहर आकर देखा ताे उसके बच्चे गायब थे। पुलिस ने घटनास्थल के सीसीटीवी फुटेज महिला काे बताए, जिसमें उसके पास बच्चे नहीं दिख रहे हैं। सवाल करने पर महिला स्वयं के ऊपर देवी आने की बात कहते हुए हंगामा करने लगी थी। घटना का पता चलने पर सपना के पिता झाड़–फूंक कराने की बात कहते हुए उसे अपने साथ गांव ले गए।

घर से बच्चाें काे लेकर निकली, हबीबगंज थाने तक आते-आते गायब हुए बच्चे

टीटी नगर थाना प्रभारी चैनसिंह रघुवंशी ने बताया कि काेलार कालाेनी तिराहा पर लगे कैमराें में महिला शुक्रवार सुबह लगभग साढ़े चार बजे दाेनाें बच्चाें काे लेकर जाते हुए दिख रही है। इसके बाद हबीबगंज थाने के पास लगे कैमराें में महिला खाली हाथ दिखी है। वह सुबह लगभग साढ़े छह बजे सुभाष स्कूल के पास बीसीएलएल कंपनी की बस में सवार हुई, तब भी उसके पास बच्चे नहीं थे। बस के कैमराें से भी इस बात की पुष्टि हाे गई है।

एकांत पार्क के पास नाले में भी की तलाश

शनिवार काे पुलिस ने काेलार कालाेनी तिराहे से लेकर हबीबगंज थाने तक चप्पे-चप्पे पर खाेजबीन की। चार इमली से एकांत पार्क की तरफ जाने वाले नाले में भी सर्चिंग की गई, लेकिन बच्चाें के बारे में कुछ भी पता नहीं चल सका।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close