भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना का टीका लगवाने के लिए जेपी और हमीदिया अस्पताल में हितग्राहियों की ज्यादा भीड़ उमड़ने की वजह से टीका लगवाने में करीब एक घंटे लग गए। शोर-शराबा भी हुआ। जेपी अस्पताल में बुधवार को 500 मरीजों को टीका लगाने की व्यवस्था की गई थी। इसमें 450 लोगों का पंजीयन ऑनलाइन और 50 का टीकाकरण केंद्र पर होना था, लेकिन करीब 80 फीसद लोगों ने अस्पताल जाकर पंजीयन कराया। इस कारण भीड़ बढ़ गई। सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे के बीच जेपी अस्पताल में 826 लोगों को टीका लगाया गया। ऐसे ही हालात हमीदिया अस्पताल में भी बने। जेपी अस्पताल में दोपहर 12 बजे के बीच इतनी भीड़ हुई की धक्का-मुक्की होने लगी। हमीदिया अस्पताल में भी 500 लोगों को टीका लगना था, लेकिन 666 लोग पहुंचे। इन जगहों पर टीका लगाने के बाद भी जमकर भीड़ रही। कर्मचारियों और जगह की कमी के चलते जेपी और हमीदिया में केंद्र नहीं बढ़ाए गए हैं।

इस तरह की दिक्कतें आईं

- जेपी अस्पताल में चिन्हित बीमारियों वाले मरीज टीका लगवाने के लिए पहुंचे, लेकिन उनके पास चिकित्सक का तय फॉर्मे में प्रमाण-पत्र नहीं था। जेपी अस्पताल के अधीक्षक डॉ. राकेश श्रीवास्तव ने कहा कि ऐसे करीब 10 मरीज बुधवार को आए। सभी से कहा है कि वह अपने इलाज करने वाले चिकित्सक से तय फॉर्मेट में प्रमाण-पत्र लेकर आएं।

- पोर्टल के ठीक से का नहीं करने की वजह से हमीदिया अस्पताल में टीका लगवाने के बाद प्रमाण-पत्र कोविन पोर्टल से नहीं निकला।

- ऑनलाइन पंजीयन के दौरान कई लोगों ने जन्म का वर्ष अलग लिखा, जबकि आधार कार्ड में कुछ और दर्ज है। ऐसे में मौके पर दोबारा पंजीयन किया गया।

- पोर्टल सुस्‍त चलने की वजह से पंजीयन में करीब पांच मिनट लगते हैं, इस वजह से भीड़ बढ़ जा रही है।

मुख्यमंत्री आज हमीदिया में लगवाएंगे टीका

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार सुबह 11 बजे हमीदिया अस्पताल में टीका लगवाएंगे। वह बुधवार को हमीदिया में पहुंचने वाले थे, लेकिन बाद में उनका कार्यक्रम निरस्त हो गया। उनके आने के सूचना से हमीदिया अस्पताल में दो दिन से सफाई चल रही है।

जेपी अस्पताल में शुरू होगा टोकन सिस्‍टम

भोपाल में सबसे ज्यादा भीड़ जेपी अस्पताल में हो रही है। यहां यहां पर भले ही दो केंद्र बनाए दो केंद्र हैं। इनमें एक में स्वास्थ्यकर्मियों को दूसरा डोज लगाया जा रहा है, जबकि दूसरे में 60 साल से ऊपर के लोगों और 45 से 59 साल के विशेष बीमारी वाले लोगों को टीका लगाया जा रहा है। इसके बाद भी बहुत ज्यादा भीड़ होने की वजह से लोगों परेशानी हो रही है। भीड़ होने से कोरोना संक्रमण का खतरा भी एक से दूसरे को है। ऐसे में अस्पताल प्रबंधन ने गुरुवार से टोकन व्यवस्था शुरू करने का निर्णय लिया है।

कहां कितने लोगों को लगा टीका

अस्पताल --टीका (सभी तरह के हितग्राहियों को मिलाकर)

एम्स - 472

हमीदिया - 666

जेपी अस्पताल - 826

बीएमएचआरसी - 200

एलएन मेडिकल कॉलेज - 226

आरकेडीएफ - 364

चिरायु - 118

सिविल अस्पताल बैरागढ़ - 230

सीएचसी बैरसिया - 36

महावीर मेडिकल कॉलेज - 70

पुलिस अस्पताल - 221

कस्तूरबा अस्पताल - 285

बीमा अस्पताल - 110

पीपुल्स मेडिकल कॉलेज - 171

नेशनल अस्पताल 261

नोबेल अस्पताल - 291

भोपाल केयर अस्पताल - 279

सीएचसी गांधी नगर- 87

काटजू अस्पताल - 120

सीएचसी कोलार - 72

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags