कमलापार्क स्थित धोबीघाट विसर्जन घाट में शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे मूर्ति को विसर्जन के दौरान एक नाव डूब गई। चूंकि खटलापुरा में नाव हादसे से प्रशासन सख्त हो गया था। लिहाजा आम आदमी को नाव में नहीं जाने दिया गया था। निगम के गोताखोर नाव पर सवार थे। लिहाजा नाव डूबने के बाद वे तैरकर किनारे पर आ गए। पहले ही यह व्यवस्था होती तो खटलापुरा की घटना को टाला जा सकता था।