विदिशा, नवदुनिया प्रतिनिधि, Heavy Rain in Vidisha। जिले में रविवार दोपहर से भारी बारिश के चलते उफान पर रहे नदी-नाले सोमवार की सुबह उतर गए। विदिशा-अशोकनगर स्टेट हाइवे पर स्थित ग्राम कागपुर के पुल का पानी 20 घण्टे बाद उतरा, लेकिन पानी के कारण पुल की रेलिंग बह गई और जगह जगह गढ्ढे हो गए। प्रशासन की अनदेखी के कारण इसी क्षतिग्रस्त पुल से आवागमन शुरू हो गया है। पुल से छोटे से लेकर भारी वाहन तक पुल से निकलने लगे है। हालांकि रिमझिम बारिश का दौर तीसरे दिन भी जारी है। जिले में महीने भर बाद सावन के एक दिन पहले से बारिश हो रही है।

एक दिन पहले रविवार को नटेरन और शमशाबाद में जोरदार बारिश होने की वजह से नदी, नाले उफान पर आ गए थे। इस दौरान नहर फूटने से सैकड़ों हेक्टेयर खेत भी पानी से लबालब हो गए। दूसरे दिन सोमवार को भी सुबह से ही बारिश का दौर जारी है हालांकि तेज बारिश नहीं होने की वजह से ग्रामीण क्षेत्रों के नदी ,नालों का उफान उतर चुका है। विदिशा-अशोकनगर स्टेट हाईवे पर स्थित कागपुर नदी के पुल का पानी पुल के नीचे आ गया है लेकिन 20 घंटे तक पानी पुल के ऊपर होने के कारण पुल की रैलिंग बह गई है और पुल पर बिछाया गया डामर जगह-जगह से उखड़ गया है। जिसकी वजह से सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि एक माह पहले ही एमपीआरडीसी ने पुल पर रेलिंग लगाई थी। बाढ़ में पानी के तेज बहाव में रेलिंग बह गई है। सोमवार सुबह 7:00 बजे से ही क्षतिग्रस्त पुल से आवागमन शुरू हो गया है। रेलिंग नहीं होने और सड़क पर जगह-जगह गड्ढे होने के कारण दुर्घटना का भय बना हुआ है। इधर ,सोमवार को भी विदिशा शहर में रिमझिम बारिश हो रही है वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में बारिश की झड़ी लगी हुई है। अच्छी बारिश होने के कारण फसलों को लाभ मिलने की उम्मीद है। हालांकि भारी बारिश ने आम जनजीवन प्रभावित कर दिया है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local