भोपाल। मानसून सीजन के चार महीनों में 15 अगस्त को ढाई माह पूरे होंगे। इस बीच मंगलवार सुबह तक राजधानी में 1001.1 मिमी. बरसात हो चुकी है। जो कि सामान्य से 314.3 मिमी. अधिक है। ज्ञात हो कि शहर की सीजन की सामान्य बरसात 1086.9 मिमी. है। इस तरह पूरे सीजन का कोटा पूरा होने में अब सिर्फ 9 सेमी बरसात की दरकार है, जबकि मानसून सीजन का अभी डेढ़ माह शेष है। उधर, मौसम विज्ञानियों ने बुधवार-गुरुवार को राजधानी सहित प्रदेश के कई स्थानों पर तेज बौछारें पड़ने की संभावना जताई है।

दो वर्ष बाद शहर में बेहतर मानसून रहा। जिसके चलते राजधानी के सभी ताल-तलैया लबालब भर चुके हैं। मंगलवार को सुबह से ही शहर सावन की रिमझिम फुहारों से तरबतर होता रहा। सुबह 8ः30 बजे से शाम 5ः30 बजे तक 4.1 मिमी पानी गिरा। शाम ढलने के बाद भी हल्की बरसात का सिलसिला जारी रहा। धूप नहीं निकलने के कारण वातावरण में ठंडक घुल गई। मंगलवार को दिन का अधिकतम तापमान 26.3 डिग्री से. दर्ज हुआ, जोकि सामान्य से तीन डिग्री से. कम रहा। उधर, मंगलवार को न्यूनतम तापमान 24.1 डिग्री से.रिकॉर्ड हुआ।

वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र झारखंड तक आ गया है। साथ ही मानसून ट्रफ भी इस सिस्टम से होकर गुजर रहा है। इन सिस्टम के कारण बुधवार-गुरुवार को राजधानी सहित प्रदेश के कई स्थानों पर तेज बरसात होने के आसार हैं। विशेषकर गुरुवार को शहर में भारी बरसात भी हो सकती है।