भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। रबी विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन का कार्य निरंतर जारी है। भोपाल संभाग के सभी पांच जिलों भोपाल विदिशा, रायसेन, राजगढ़ एवं सीहोर में अभी तक 755 गेहूं उपार्जन केन्द्रों से एक लाख 80 हजार 128 किसानों से लगभग तीन हजार 318 करोड़ रुपए का 16 लाख 47 हजार 50 मीट्रिक टन गेहूं खरीदा गया है। परिवहन मात्रा 16 लाख 30 हजार 466 मीट्रिक टन है जो कि 99 प्रतिशत है। जबकि डब्ल्यूएचआर 15 लाख 49 हजार 251 मीट्रिक टन है जिसका प्रतिशत 95 है।

जिला आपूर्ति नियंत्रक ज्योति शाह नरवरिया ने जानकारी दी है कि किसानों से 16 मई 2022 तक गेहूं उपार्जन किया जाएगा । सभी किसान समय सीमा में उपार्जन केन्द्र पहुंचकर गेहूं का विक्रय करें । सभी समिति प्रबंधक, गेहूं उपार्जन प्रभारी एवं कम्प्यूटर ऑपरेटर्स को पंजीकृत किसानों को फोन करके गेहूं उपार्जन के लिये उपार्जन केन्द्र पर बुलाने के निर्देश दिए गए हैं।

भोपाल में दो लाख 30 हजार 437 मीट्रिक टन गेहूं की हुई खरीदी

भोपाल जिले में 77 उपार्जन केन्द्र पर 2015 रूपये प्रति क्विंटल की दर से चार अप्रैल से गेहूं उपार्जन का कार्य किया जा रहा है। जिले में 39 हजार 394 पंजीकृत किसानों में से 32 हजार 265 किसानों ने स्लाट बुक किये हैं । प्रदेश में सबसे अधिक स्लाट भोपाल जिले में बुक किये गये हैं। भोपाल जिले में 23 हजार 504 किसानों से दो लाख 30 हजार 437 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी की गई है। परिवहन मात्रा दो लाख 29 हजार 400 मीट्रिक टन है जो कि 99 प्रतिशत है। जबकि डब्ल्यू एच आर दो लाख 16 हजार 846 मीट्रिक टन है जिसका प्रतिशत 94.52 है । भोपाल जिले में 27 हजार 864 किसानों के 1252 ईपीओ जारी किये गये हैं। किसानों से उपार्जित दो लाख 25 हजार 720 मीट्रिक टन गेहूं की राशि 398.99 करोड़ रुपए का भुगतान किसानों के आधार से लिंक बैंक खातों में किया गया है। सभी किसान भाईयों से अपने समस्त बैंक खातों में भुगतान की राशि चेक करने की अपील की गई है। यदि से बैंक खाता आधार नंबर से लिंक नहीं है तो जल्द से जल्द अपने बैंक खाते को आधार नंबर से लिंक कराएं जिससे किसानों को उपार्जित गेहूं का भुगतान समय सीमा में किया जा सके।

अधिकारी कर रहे सतत निरीक्षण

भोपाल संभाग के सभी 755 उपार्जन केन्द्रों नियुक्त 755 नोडल अधिकारियों द्वारा उपार्जन केन्द्रों पर किसानों के लिये उपयुक्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये सतत निरीक्षण किया जा रहा है। सभी केन्द्रों पर किसानों को उपयुक्त छायादार स्थान, पेयजल सहित अन्य मूलभूत सुविधाओं के साथ आनलाइन टोकन पर्ची जारी कर गेहूं का उपार्जन कार्य निर्बाध जारी है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local