Bhopal Business News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। लगभग दो माह से बंद बैरागढ़ बाजार गुरुवार से खुलने से व्यापारियों के चेहरे खिल उठे हैं लेकिन कपड़ा, बर्तन, रेडीमेड और फुटवियर दुकानों पर अपेक्षित ग्राहकी नहीं रही। सराफा बाजार भी सुनसान नजर आया। थोक कपड़ा व्यापारियों के पास ट्रांसपोर्ट पर रखा माल उतरा।

बैरागढ़ के नेहरू क्लॉथ मार्केट, मुखर्जी मार्केट, लक्ष्मी कपड़ा मार्केट एवं संत हिरदाराम शॉपिंग कांम्पलेक्स में सर्वाधिक थोक कारोबार होता है। गुरुवार को दुकानों के सामने कपड़े की गठानों का ढेर नजर आया। असल में दुकानें बंद होने के कारण ट्रांसपोर्ट पर अटका माल दुकानों तक गुरुवार को पहुंचा था।

थोक वस्त्र व्यवसाय संघ के अध्यक्ष कन्हैया इसरानी के अनुसार सीहोर, विदिशा, रायसेन, होशंगाबाद, इटारसी के फुटकर व्यापारी खरीदी के लिए संत हिरदाराम नगर बाजार पहुंचते हैं। अगले कुछ दिनों में कारोबार सामान्य हो जाएगा, लेकिन मांगलिक सीजन बीत चुका है, इसलिए व्यापारियों को अब दीपावली के सीजन का इंतजार करना होगा।

करोड़ों रुपये का वैवाहिक कपड़ा अटका

व्यापारियों ने इस बार मांगलिक सीजन में अच्छी ग्राहकी की उम्मीद से महंगी वैवाहिक साड़ियां, लहंगे, लांचे, ड्रेस मटेरियल, सूटिंग, शर्टिंग कपड़ों का भरपूर स्टॉक किया था। कोरोना कर्फ्यू के कारण शादी-ब्याह भी नहीं हो सके। कुछ लोगों ने सादगी से ही कार्यक्रम किया। लोग खरीदी करने नहीं आए। यह माल अब व्यापारियों के पास अटक गया है। अब व्यापारियों को कम से कम पांच माह इंतजार करना होगा। हालांकि जून एवं जुलाई में भी शादियों के मुहूर्त हैं। व्यापारियों को उम्मीद है कि इस माह नुकसान की कुछ भरपाई होगी।

सराफा बाजार में अच्छे उठाव की उम्मीद

सराफा बाजार भी लगातार बंद था। इस कारण लोग आभूषण नहीं खरीद पाए। सराफा कारोबारियों को उम्मीद है कि अब लोग खरीदी करने निकलेंगे। सराफा व्यापारी संघ के उपाध्यक्ष प्रकाश दादलानी के अनुसार फिलहाल लोग गहनों में टूट-फूट की मरम्मत करवाने आ रहे हैं। ग्रामीण इलाकों के लोग अगले सप्ताह बाजार आ सकते हैं।

ग्राहकों से कहा, मास्क पहनकर आएं

व्यापारी ग्राहकों से मास्क पहनने की अपील कर रहे हैं। बैरागढ़ थाना प्रभारी शिवपालसिंह कुशवाह ने थाने में बैठक कर व्यापारियों से गाइडलाइन का पालन करने की अपील की। बैठक में कन्हैया इसरानी, राजा दादलानी, आरसी मूलचंदानी एवं वासुदेव वाधवानी सहित अनेक लोग उपस्थित थे। जिला प्रशासन की टीम अब गाइलाइन का पालन नहीं करने पर कार्रवाई करेगी। इसे देखते हुए व्यापारी सतर्क हो गए हैं।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags