भोपाल। अशोकागार्डन स्थित ए सेक्टर सुभाष कॉलोनी में रविवार तड़के चार बजे एक युवक का शव संदिग्ध हालत में बिजली के मोटे तार से फांसी पर लटका मिला। कान में इयर फोन लगा था, जो जेब में रखे मोबाइल से कनेक्ट था। उसके हाथ पीछे की तरफ बिजली के ही पतले तार से बंधे थे। शुरुआती जांच में पुलिस की इसे खुदकशी ही बता रही है। बाकी खुलासा पीएम रिपोर्ट आने के बाद होगा। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सुपुर्द कर दिया है।

पुलिस के अनुसार ए सेक्टर सुभाष कॉलोनी में रहने वाला सलमान अली (20) प्राइवेट काम करता था। उसके पिता लियाकत अली का घर के पास ही बारदाने सिलने का गोदाम है। मृतक के परिवार के मित्र मो. नसीर ने बताया कि सुबह तड़के चार बजे जब सलमान के पिता सीमेंट का ट्रक खाली करके वापस घर लौटे थे तो उन्हें गोदाम का दरवाजा खुला मिला। उन्होंने अंदर जाकर देखा तो सलमान बिजली के मोटे तार का फंदा बनाकर फांसी पर लटका था। उसके हाथ पीछे की तरफ बंधे हुए थे। कान में ईयर फोन लगा था।

रात में मां से ही मांगी थी गोडाउन की चाबी

पुलिस को जांच के दौरान जानकारी मिली है कि सलमान ने ही रात में अपनी मां से गोदाम की चाबी ली थी। उस समय उसके मोबाइल पर किसी का फोन आ रहा था। उसने मां से कहा था कि बात करके आता हूं। उसके द्वारा देर रात तक मोबाइल पर बात करने की बात भी सामने आ रही है।

शुरुआती जांच में खुदकुशी के संकेत

अशोकागार्डन थाना प्रभारी उमेश यादव ने बताया कि क्राइम सीन का मुआयना करने के बाद यह खुदकुशी का मामला लग रहा है। आशंका है कि ईयर फोन लगाकर वह मोबाइल से किसी से बात कर रहा होगा। हाथ बांधने से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि युवक फांसी लगाने के बाद बचना नहीं चाहता था। इसलिए उसने अपने हाथों को बांधा होगा। पूरा तरीका खुदकशी करने का लग रहा है। बाकी स्पष्ट खुलासा पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही होगा। हालांकि डाक्टरों ने बात हुई है। उनका भी प्रारंभिक मत खुदकशी की तरफ ही है।

मोबाइल की कॉल डिटेल से होगा खुलासा

पुलिस ने बिजली का मोटा तार, हाथ बांधने वाला पतला तार और मोबाइल फोन जब्त कर लिया है। ईयर फोन परिजनों को दे दिया है। टीआई यादव का कहना है कि मोबाइल की कॉल डिटेल निकालने के बाद पता चल जाएगा कि सलमान ने आखिरी बार किससे बात की थी। मृतक दो भाई और एक बहन में सबसे बड़ा बेटा था।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket