बुरहानपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला अस्पताल में बुधवार से दो दिवसीय स्वास्थ्य मेले का आयोजन शुरू हो गया है। स्वास्थ्य मेले का शुभारंभ बुधवार सुबह पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस, सांसद प्रतिनिधि गजेंद्र पाटिल सहित अन्य जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में किया गया। शिविर में मुंबई, खंडवा, इंदौर व जलगांव के सुपर स्पेशलिटी डाक्टरों ने अपनी सेवाएं दीं। मेले के पहले दिन 1364 मरीजों ने पंजीयन कराया था। इनमें से 49 गंभीर रोगों से ग्रसित मरीजों की पहचान की गई है। इनके आयुष्मान कार्ड बनवा कर दूसरे शहरों में इलाज के लिए भेजा जा रहा है। कार्यक्रम शुभारंभ अवसर पर युवा भाजपा नेता गजेंद्र पाटिल ने कहा कि स्वास्थ्य शिविर के माध्यम से जरूरतमंदों का निश्शुल्क इलाज हो सकेगा। इस सराहनीय पहले के लिए प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के प्रति हम सभी आभारी हैं। उन्होंने कहा कि आयुष्मान कार्ड के माध्यम से भाजपा सरकार हजारों लोगों को बेहतर इलाज की सुविधा मुहैया करा रही है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से आग्रह किया कि अधिक से अधिक लोगों को शिविर में लाकर लाभ दिलाएं।

स्वास्थ्य मेले में पहले दिन हालांकि मरीजों की कम संख्या रही। गुरुवार को यहां ज्यादा मरीजों के पहुंचने की संभावना है। स्वास्थ्य मेले में दोपहर 3.30 बजे तक विशेषज्ञों ने सेवाएं दीं। इस दौरान 62 लोगों के हेल्ड कार्ड भी बनाए गए। जिला महामारी नियंत्रक रवींद्र राजपूत ने बताया कि पहले दिन 988 मरीजों ने अपनी जांच करा दवा ली। इसके अलावा 41 मरीज ऐसे भी थे जिन्हे घर बैठे टेली मेडिसिन कंसल्टेंसी के माध्यम से लाभ दिया गया। इसके अलावा शून्य से अठारह साल वाले जन्मजात विकृति के 22 प्रकरण आए हैं। जिन्हें राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत इलाज की सुविधा दिलाई जाएगी। मेले में इंदौर से डा. जीएस शर्मा भी पहुंचे। उन्होंने मेले का निरीक्षण किया। बुरहानपुर विधायक सुरेंद्र सिंह भी मेला स्थल पहुंचे और बाहर से आए डाक्टरों को धन्यवाद दिया।

कुछ जगह अव्यवस्था भी दिखी

स्वास्थ्य मेले के दौरान कुछ जगह अव्यवस्था भी नजर आई। चेंबरों में बैठे विशेषज्ञों के पास पहुंचे मरीजों के बैठने की व्यवस्था नहीं की गई थी। जिसके चलते उन्हें फर्श पर बैठकर इंतजार करना पड;ा। दोपहर में डाक्टरों के कुछ चेंबर खाली रहे, जबकि उनसे जांच कराने पहुंचे मरीज भटकते रहे। सीएमएचओ डा. राजेंद्र सिसोदिया ने सिविल सर्जन डा. बसंत सारस्वत को व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी सौंपी थी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close