बुरहानपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नगर निगम सहित जिले के दो अन्य नगरीय निकायों की वार्ड आरक्षण प्रक्रिया मंगलवार को कलेक्टर प्रवीण सिंह व जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में पूर्ण कराई गई। नगर निगम बुरहानपुर के 48 वार्डों में से इस बार सर्वाधिक 17 वार्ड पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किए गए हैं। पिछले चुनाव में पिछड़ा वर्ग के लिए 12 वार्ड आरक्षित थे।

इसी तरह अनुसूचित जाति वर्ग की जनसंख्या के हिसाब से तीन वार्ड आरक्षित किए गए हैं। इनमें वार्ड क्रमांक आठ अंबेडकर वार्ड, 17 आलमगंज वार्ड और 47 शिवाजी वार्ड शामिल हैं। इनमें से वार्ड क्रमांक 17 और 47 अजा महिला के लिए होंगे। अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए एक भी वार्ड आरक्षित नहीं किया जा सका। अधिकारियों ने बताया कि इस वर्ग की जनसंख्या नहीं होने के कारण यह स्थिति बनी है। शेष 28 वार्ड अनारक्षित श्रेणी में रखे गए हैं। इनमें से तेरह वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित किए गए हैं। वार्ड आरक्षण के दौरान अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह सोलंकी, एसडीएम केआर बड़ोले े, निगमायुक्त एसके सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज लधवे, पूर्व महापौर अनिल भोंसले, कांग्रेस जिलाध्यक्ष अजय सिंह रघुवंशी, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अकील औलिया सहित राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

नगर परिषद शाहपुर व नेपानगर में ओबीसी को चार-चार वार्ड

मंगलवार को नगर निगम के साथ ही नगर परिषद शाहपुर और नगर पालिका परिषद नेपानगर के लिए भी वार्ड आरक्षण प्रक्रिया पूरी की गई। हालांकि नेपानगर नगर पालिका का कार्यकाल अगस्त में समाप्त होगा। दोनों जगह पिछड;ा वर्ग को चार-चार वार्ड मिले हैं। नगर परिषद शाहपुर में कुल 15 वार्ड हैं। इनमें से वार्ड क्रमांक एक व दो अजा वर्ग के लिए, वार्ड क्रमांक 15 अजजा महिला वर्ग के लिए और वार्ड क्रमांक 6, 7, 8 व 13 पिछड;ा वर्ग के लिए आरक्षित किए गए हैं। इनमें से वार्ड 6 व 13 महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। अनारक्षित वर्ग के शेष आठ वार्डों में से तीन महिलाओं के लिए आरक्षित किए गए हैं।

नगर पालिका परिषद नेपानगर में अजा वर्ग के लिए चार वार्ड 1, 9, 19 और 21 आरक्षित किए गए हैं। इनमें से वार्ड 19 व 21 महिलाओं के लिए हैं। अजजा वर्ग के लिए चार वार्ड 14, 15, 22 व 23 आरक्षित हैं। इनमें से वार्ड 14 और 22 महिलाओं के लिए हैं। यहां पर ओबीसी वर्ग के लिए भी चार वार्ड क्रमांक 4, 2, 16 व 17 आरक्षित किए गए हैं। इनमें से वार्ड दो और 16 महिला के लिए आरक्षित हैं।

भाजपा और कांग्रेस नेताओं में बयानबाजी शुरू

आरक्षण प्रक्रिया पूरी होने के साथ ही प्रमुख दल भाजपा व कांग्रेस के नेतओं की बयानबाजी भी सामने आनी शुरू हो गई है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष अजय रघुवंशी ने मीडिया से चर्चा में कहा कि हम अपने वादे पर कायम हैं। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की घोषणा के मुताबिक पिछड़ा वर्ग के लोगों को ज्यादा टिकट दिए जाएंगे। शहर की खुदी सड़कें और कागजों में हुआ विकास मुख्य चुनावी मुद्दा होंगे। भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज लधवे ने कहा है कि कांग्रेस के पास जनता के बीच जाने के लिए कुछ भी नहीं है। कांग्रेस ने न युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दिया, न किसानों का कर्ज माफ किया और न तीस सौ रुपये में राशन दिया। भाजपा की सरकार प्रत्येक परिवार को किसी न किसी योजना का लाभ दे रही है। इस बात को जनता भी भलीभांति जानती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close