नेपानगर। रेलवे स्टेषन नेपानगर पर पिछले करीब दो माह से पांच नियमित यात्री ट्रेनों के स्टॉपेज स्थगित हैं। इसे लेकर रेलवे संघर्ष समिति ने 31 दिसंबर को उग्र आंदोलन किया था। समिति ने ट्रेनों के स्टॉपेज यथावत नहीं होने पर फिर आंदोलन की चेतावनी दी है। इसे लेकर शुक्रवार को डीआरएम के नाम रेलवे स्टेशन अधीक्षक आसाराम नागवंशी को ज्ञापन सौंपा गया।

ज्ञापन में पूर्व नपाध्यक्ष सोहन सैनी ने कहा कि आंदोलन के दौरान अधिकारियों ने आश्वासन दिया था कि स्टॉपेज का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत कर दिया गया है। इसका अनुमोदन 29 जनवरी के पूर्व कर लिया जाएगा। परंतु अब तक ट्रेनों के स्टापेज को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। इसलिए समिति ज्ञापन के माध्यम से अवगत करा रही है कि अगर 29 जनवरी के पूर्व यात्री ट्रेनों का ठहराव जारी करने के आदेष रेलवे बोर्ड जारी करे नहीं तो समिति को एक बार फिर आंदोलन के मजबूर होना पड़ेगा। इसकी पूरी जिम्मेदारी रेलवे प्रषासन की होगी। सैनी ने कहा प्रशासन के कहने पर हमने 31 दिसंबर को अंदोलन स्थगित किया था। लेकिन अब 29 जनवरी तक यदि ऐसा नही हुआ तो समिति अपने आंदोलन के तहत आगे बढेग़ी, क्योंकि अन्य स्टेषनों तलवड़िया, रावेर, छनेरा में ट्रेनें पूर्व की तरह रूक रही है।

पटरियों पर लेटकर किया था विरोध प्रदर्शन

गौरतलब कि 31 दिसंबर को रेलवे स्टेषन पर जमकर प्रदर्षन किया गया था। कुछ लोग रेलवे पटरियों पर लेट गए थे। इस दौरान दिल्ली मुंबई मार्ग करीब दो घंटे तक प्रभावित हुआ था। आरपीएफ, जीआरपी ने कुछ लोगों पर केस भी दर्ज किए थे। अब फिर से आंदोलन की रूपरेखा बन रही है। ज्ञापन सौंपते समय पूर्व विधायक रघुनाथ चैधरी, व्यापारी संघ अध्यक्ष हेमंत सिद्धवानी, संजय विजयवर्गीय सहित अन्य मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags