----लीड----

12बीयूआर-21, 22, 23, 24, 25, 26 सहित। आदरणीय, सर उक्त फोटो नंबरों के के प्शन अगली आरटीएफ में भेज रहे हैं...।

-अनंत चतुर्दशी पर श्रद्धालुओं ने नम आंखों से बप्पा को दी विदाई, अगले बरस जल्दी आने की गुहार लगाई

बुरहानपुर/नेपानगर/खकनार/धाबा। नईदुनिया प्रतिनिधि

गणेशोत्सव के तहत दस दिनों तक घरों में विराजित विघ्नहर्ता भगवान श्री गणेश को अनंत चतुर्दशी पर गुरुवार श्रद्धालुओं ने नम आंखों से विदाई दी। बुरहानपुर शहर में ताप्ती नदी के विभिन्न तटों पर आस्था का मेला लगा। ढोल-ढमाके व झांझ-मंझीरे बजाकर कीर्तन गाते हुए गणपति बप्पा मोर्‌या अगले बरस तू जल्दी आ के जयघोष लगाए। अंचल में भी धूमधाम से भगवान को तालाब व नदी तटों पर ले जाया गया। कीर्तन करते हुए विसर्जन कि या गया।

गुरुवार सुबह से ही बाजार जल्दी खुले। शहर में मिठाई दुकानों व फल-फू ल दुकानों पर जमकर खरीदारी हुई। भक्तों ने भगवान श्री गणेश को लड्डू व मिठाई का भोग लगाकर पूजा-अर्चना की और शुभ मुहूर्त में विसर्जन के लिए ले गए। शहर में जगह-जगह से शोभायात्राएं निकली। कोई भगवान को सिर पर बैठाकर ले गया तो कोई कार, बाइक व अन्य वाहनों पर ले गया। कोई ठेले व ट्रैक्टर ट्रॉली पर धूमधाम से नदी तट पर लाया।

वैकल्पिक कु ंडों में कि या विसर्जन

नगर निगम द्वारा राजघाट, सतियारा घाट, नागझिरी घाट सहित अन्य तटों पर वैकल्पिक कु ंड बनाए गए। इन कु ंडों में गणेशजी की मूर्तियों का विसर्जन कि या गया। वहीं कु छ श्रद्धालुओं ने नदी व तालाबों में भी विसर्जन कि या।

घर में गमले में विसर्जन

कई श्रद्धालुओं ने इस बार मिट्टी की गणेश मूर्तियां भी अपने घरों में स्थापित की। इन मूर्तियों को गमले में ही विसर्जित कि या गया। वहीं कु छ ने घर में रखे जलपात्रों में विसर्जन कि या।

सोशल मीडिया पर घर में विसर्जन का संदेश प्रसारित

सोशल मीडिया पर गणेश मूर्तियों को घर में ही जलपात्रों में विसर्जित करने का संदेश प्रसारित कि या गया। अखिल विश्व गायत्री परिवार के मनोज तिवारी ने बताया कि वाट्सएप व अन्य सोशल साइट पर मिट्टी की मूर्तियों को वैकल्पिक कु ंड या घर में ही जलपात्रों में विसर्जित करने का आह्वान कि या गया। श्रद्धालुओं को नदी तटों को साफ रखने का संदेश दिया गया।

गणपति के साथ ली सेल्फी

श्रद्धालुओं ने भगवान श्रीगणेश के साथ सेल्फी भी ली। विसर्जन से पहले सेल्फी लेने के लिए युवाओं में खासा उत्साह देखा गया।

आज बड़ी मूर्तियों का होगा विसर्जन

शुक्रवार को शहर में करीब 400 स्थानों पर विराजित छोटी-बड़ी गणेश मूर्तियों का विसर्जन होगा। इनकी आकर्षक शोभायात्राएं निकलेंगी वहीं इन मूर्तियों को ताप्ती नदी के पुराने पुल पर ले जाया जाएगा। यहां पर पुल से विसर्जन कि या जाएगा।

क्रेन की मदद से कि या विसर्जन

नेपानगर में दोपहर बाद पांधार नदी के पुल व नगर पालिका द्वारा बनाए गए वैकल्पिक कु ंड में क्रेन के सहयोग मूर्तियों का विसर्जन कि या गया। श्रद्धालु धूमधाम से मूर्तियों को विविध तटों पर ले गए और विसर्जन कि या। इसी तरह नेपा लिमिटेड में श्रीगणेशजी की मूर्ति के विसर्जन के पूर्व विसर्जन स्थल पर पहुंची एसडीएम विशा वाधवानी भी आरती मे शामिल हुई। सभी की खुशहाली के लिए भगवान श्री गणेश से प्रार्थना की।

धूमधाम से विदाई

धाबा व खकनार क्षेत्र में भी गुरुवार को विसर्जन पर बप्पा के जयघोष गूंजे। युवाओं व बच्चों में खासा उत्साह देखा गया। कीर्तन मंडलियों ने कीर्तन कि या और नदी तटों पर मूर्तियों को ले गए। यहां पर विसर्जन कि या गया। वहीं क्षेत्र में विसर्जन पर भंडारे का आयोजन भी कि या गया।

यहां भी हुआ विसर्जन

जिले में शाहपुर, दरियापुर, डोईफोड़िया, धूलकोट, असीरगढ़, निंबोला, फोपनार, जैनाबाद सहित अन्य स्थानों पर भी विसर्जन हुआ। भक्तों ने धूमधाम से मूर्तियों की शोभायात्राएं निकाली और नदी व तालाबों में विसर्जन कि या।

12बीयूआर-21 : बुरहानपुर में स्कू टर पर भगवान श्री गणेश को विसर्जन के लिए ले जाते श्रद्धालु।-नईदुनिया

12बीयूआर-22 : बुरहानपुर में विसर्जन से पहले भगवान श्रीगणेश के साथ सेल्फी लेते श्रद्धालु।-नईदुनिया

12बीयूआर-23 : बुरहानपुर में विसर्जन से पहले भगवान श्रीगणेश की आरती करते श्रद्धालु।-नईदुनिया

12बीयूआर-24 : बुरहानपुर में ताप्ती नदी में मूर्तियों का विसर्जन करते श्रद्धालु।-नईदुनिया

12बीयूआर-26 : नेपानगर में क्रेन की मदद से मूर्तियों का विसर्जन करते श्रद्धालु।-नईदुनिया

12बीयूआर-29 : ग्राम धाबा में विसर्जन जुलूस में पूर्व विधायक मंजू दादू भी शामिल हुई।-नईदुनिया

12बीयूआर-30 : जैनाबाद में विसर्जन जुलूस में शामिल श्रद्धालु।-नईदुनिया

12बीयूआर-31 : शहर सहित अंचल में कई श्रद्धालुओं ने अपने घर पर ही जलपात्रों में भी मिट्टी की मूर्तियां विसर्जित की।-नईदुनिया

12बीयूआर-32 : ग्राम धूलकोट में मूर्ति विसर्जन के लिए ले जाते श्रद्धालु।-नईदुनिया