बेखौफ बदमाश : लगातार हो रही वारदातों से रहवासी परेशान, पुलिस के सामने चुनौती

बुरहानपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

एक तरफ बुरहानपुर पुलिस बैंक लूट के मामले में उलझी हुई है तो दूसरी तरफ बाइक चोरों ने भी पुलिस के चुनौती खड़ी कर दी है। शहर की पॉश कॉलोनियों में शुमार इंदिरा कॉलोनी और न्यू इंदिरा कॉलोनी में सक्रिय बाइक लुटेरों ने शुक्रवार रात करीब तीन से चार बजे के बीच पांच बाइक चोरी कर लीं। इनमें से एक लालबाग थाने के हेड कांस्टेबल की बाइक शामिल थी।

इनमें से बदमाश तीन नई शाइन बाइक साथ ले गए, जबकि पुलिसकर्मी की बाइक सहित दो पुरानी बाइक पास की झाड़ियों में फेंक कर चले गए। चोरों की यह हरकत कॉलोनी में रहने वाले कांग्रेस नेता विनोद मोरे के घर के बाहर लगे सीसीटीवी कै मरे में कै द हो गई। सीसीटीवी फु टेज में दो युवक बड़े आराम से रात करीब साढ़े तीन बजे एक बाइक को पैदल ले जाते हुए नजर आ रहे हैं। चोरों का शिकार हुए कु शल राठौड़ और नितिन साल्वे ने बताया कि कई साल से सभी के वाहन घर के बाहर ही खड़े हो रहे हैं, लेकि न चोरी की वारदातें नहींहोती थीं। बीते करीब तीन माह से चोर गिरोह सक्रिय हुआ है। चोरों की पसंद भी नई बाइक हैं। इससे पहले कॉलोनी से तीन पल्सर बाइक और अब तीन नई शाइन बाइक चोरी की गई हैं।

कांग्रेस नेता विनोद मोरे का आरोप है कि जब से शहर में अमृत योजना और सीवरेज का काम शुरु हुआ है, तब से चोरी की वारदातें भी बढ़ गई हैं। उनके मुताबिक इस काम में संबंधित कंपनी द्वारा बाहर से लाए गए मजदूर और कर्मचारी शामिल हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि कॉलोनी में सीसीटीवी कै मरे लगाने के लिए भी लालबाग पुलिस को गत दिनों आवेदन दिया जा चुका है, लेकि न अब तक कै मरे नहीं लगाए गए हैं।

बैंक लूटकांड : चार कि मी बाद ही लुटेरों ने बदल दिया था रास्ता

बुरहानपुर। बोदरली बैंक लूटकांड के चौथे दिन शनिवार को भी आरोपितों का कोई सुराग नहीं मिल पाया है। हालांकि पुलिस की आठ टीमें महाराष्ट्र के विभिन्न इलाकों में लुटेरों की तलाश कर रही हैं जबकि 12 अन्य टीमें जिले में काम कर रही हैं। पुलिस की अब तक की तफ्तीश से यह बात सामने आई है कि लूट के बाद बदमाश सीतापुर मार्ग की ओर भागे थे, लेकि न करीब चार कि मी बाद हीनीमपड़ावा के पास से मुड़ गए और रास्ता बदल दिया। यहां से लोखंडिया होते हुए भागे हैं। पुलिस इन मार्गों में लगे सीसीटीवी कै मरों को भी खंगाल रही है। सूत्रों के मुताबिक पुलिस को लुटेरों की बाइक के नंबर ट्रेस हुए हैं, जिनके आधार पर ही महाराष्ट्र के संबंधित इलाकों में दबिश दी जा रही है। इसके अलावा बैंक के सीसीटीवी फु टेज में उनकी जो आपसी बातचीत रिकार्ड हुई है, उससे भी उनके मराठी भाषी होने का पुष्टि हुई है। वीडियो में जिस तरह का बड़ा चाकू लुटेरों के पास नजर आ रहा है, उस तरह का चाकू भी मप्र में इस्तेमाल नहीं होता। एडिशनल एसपी महेंद्र तारणेकर ने बताया कि पुलिस इस लूटकांड को सुलझाने और आरोपितों की गिरफ्तारी में दिन-रात काम कर रही है। उनका दावा है कि जल्द ही आरोपित पुलिस गिरफ्त में होंगे।