-लोखंडिया में धूमधाम से मनाया गुरु गोविंद सिंहजी का प्रकाश पर्व, श्रद्घालुओं ने लगाए जयकारे

डोईफोड़िया। (नईदुनिया न्यूज)

गुरु गोविंद सिंहजी का प्रकाश पर्व रविवार को ग्राम लोखंडिया में धूमधाम से मनाया गया। ज्ञानी बलवंत सिंह ने बताया कि सिखों के दसवें गुरु गोविंद सिंह के प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन कि या गया। शुक्रवार को गुरुवाणी व कीर्तन के साथ अखंड पाठ आरंभ हुआ। जिसका समापन रविवार को हुआ। निशान साहेब की सेवा हुई और नगर कीर्तन निकाला गया। आगे-आगे पंज प्यारे चल रहे थे। इसके बाद श्री गुरुग्रंथ साहिब विराजमान थे। कारसेवक श्री गुरुग्रंथ साहिब को पंखा झल रहे थे। पीछे-पीछे श्रद्धालु जयकारे करते चले चल रहे थे।

वहीं समुदाय के लोगों द्वारा तलवारबाजी के जरिए प्रस्तुत कि ए जा रहे युद्ध के दृश्य न के वल शामिल श्रद्धालुओं, बल्कि राह चलते लोगों को उत्साहित कर रहे थे। इस आयोजन में पांच जगह की संगत पहुंची। जिसमें खंडवा, बुरहानपुर, पाचोरी, खकनार, मातापुर सहित अन्य जगह के श्रद्घालु आए। दोपहर में गुरु का अटूट लंगर हुआ। जिसमें भक्तों ने महाप्रसादी पाई। ज्ञानी चरणसिंह द्वारा गुरुवाणी पढ़ी गई। इस अवसर पर मनमोहनसिंह बिंद्रा, अमरजीतसिंह बिंद्रा, शैली कीर, बलवंत सिंह, पेमा नायक, राजू पवार, रामसिंह पवार, राजेश पवार, रामकि सन चौहान, रामराव पवार, ईश्वर जाधव, अशोक राठौड़, नवल पवार, उपसरपंच त्रिलोक राठौड़ सहित समाजजन मौजूद थे।

ग्राम मोहनगढ़ फाल्या में आंगनबाड़ी भवन जर्जर, हादसे का अंदेशा

खकनार। ग्राम मोहनगढ़ फाल्या में संचालित आंगनबाड़ी कें द्र जर्जर है। यहां फाल्या के कईं बच्चे रोजाना आंगनबाड़ी आते हैं, लेकि न भवन जर्जर है। छतों में दरारें दिखने लगी है। इससे दुर्घटना का अंदेशा है। वहीं कईं बच्चों के परिजन खतरे के भय से आंगनबाड़ी कें द्र भेजने से कतरा रहे हैं। बारिश में छतों से पानी भी टपकता है। इसके बावजूद विभाग द्वारा आंगनबाड़ी भवन सुधारने पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। बारिश में ज्यादा परेशानी होती है। ग्रामीण दिनेश रामसिंह, नारायण भुवणसिंह ने बताया कि जर्जर भवन में संचालित आंगनबाड़ी कें द्र पर बच्चों को भेजने से कभी भी कोई घटना घटित हो सकती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket