Burhanpur News : तेज आवाज करके ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों पर जल्द ही नकेल कसेगी। ऐसे वाहनों की प्रमाणिक जांच के लिए पुलिस मुख्यालय ने जिले काे साउंड लेवल मीटर भेजे हैं। ये हैंड हेल्ड मशीनें ट्रैफिक पुलिस को सौंप दी गई हैं। हालांकि अभी मशीनों के संचालन और गाइड लाइन के संबंध में अभी ट्रेनिंग होना शेष है। गत दिनों पुलिस मुख्यालय द्वारा इसे लेकर ऑनलाइन ट्रेनिंग आयोजित की गई थी, लेकिन इसमें उन जिलों को शामिल नहीं किया गया था, जहां उपचुनाव हो रहे हैं। जिसके चलते बुरहानपुर के पुलिस अफसर इसमें शामिल नहीं हो पाए। यातयात सूबेदार हेमंत पाटीदार के मुताबिक संभवत: चुनाव बाद विभाग की ओर से शेष बचे जिलों को ट्रेनिंग दी जाएगी। जिसके बाद तेज आवाज करने वाले वाहनों के खिलाफ चालानी कार्रवाई शुरू होगी। ज्ञात हो कि इन दिनों युवाओं को बुलट में खास किस्म का साइलेंसर लगवाने का शौक है। जिससे गोली चलने जैसी कानफोड़ू आवाज निकलती है। कई बार इस आवाज को सुनकर अन्य वाहन चालकों का संतुलन बिगड़ जाता है और वे हादसों का शिकार तक हो जाते हैं।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस