बुरहानपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कांग्रेस के एक और नेता विनोद मोरे को शुक्रवार दोपहर पुलिस ने अवैध वसूली और मारपीट के आरोप में गिरफ्तार किया है। इंदिरा कॉलोनी निवासी विनोद मोरे वर्तमान में कांग्रेस अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष हैं। उनके खिलाफ झिरी में बायो डीजल पंप चलाने वाले मदनलाल चौधरी ने निंबोला थाने में शिकायत की थी। जिसमें बायो डीजल पंप को अवैध बताकर बीस लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया गया है। शिकायत की जांच के बाद पुलिस ने विभिन्ना धाराओं में प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। शाम को पुलिस ने कांग्रेस नेता को न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहां से जेल भेज दिया गया है।

बायो डीजल पंप संचालक मदन लाल चौधरी ने निंबोला पुलिस को बताया है कि उन्होंने शासन से अनुमति लेकर बायो डीजल पंप का संचालन शुरू किया है। गुरुवार को कांग्रेस नेता विनोद मोरे पंप पर पहुंचे और इसे अवैध बताते हुए बीस लाख रुपये की मांग करने लगे। रुपये नहीं देने पर उन्होंने गाली गलौज व मारपीट भी की है। जिससे उनके पेट में गंभीर चोट आई है। मौके पर मौजूद शहर के एक अन्य व्यवसायी और मदन लाल के मित्र पंकज पलोड ने बीच बचाव किया। इसके बाद विनोद मोरे मदनलाल के केबिन में बैठकर भी रुपयों की मांग करते रहे। शिकायत के साथ पुलिस को मोरे के साथ हुई बातचीत की ऑडियो और वीडियो रिकार्डिंग भी उपलब्ध कराई गई है।

पांचवें कांग्रेस नेता पर हुई एफआइआर

जिले में कांग्रेस संगठन की छवि को पार्टी के नेता ही धूमिल करने में लगे हुए हैं। एक साल के अंदर विनोद मोरे पांचवें कांग्रेस नेता हैं जिनके खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई है। पूर्व में कांग्रेस की महिला नेत्री की शिकायत पर अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष रहे शेख मुश्ताक के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज हो चुका है। इसके बाद पूर्व विधायक के पुत्र नूर काजी पर सरकारी जमीन किराए पर देने के लिए प्रकरण दर्ज किया गया था। कुछ माह पहले युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष मेहमूद अंसारी और पूर्व पार्षद कलीम खान पर एक महिला की शिकायत पर दुष्कर्म का केस दर्ज किया गया था। वर्तमान में कार्यकारिणी भंग होने से कांग्रेस के पास जिलाध्यक्ष तक नहीं है।

थथथथ

इर्ीॅािीि घीाचैनज थ

ऽऽऽऽ

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local