बुरहानपुर/नेपानगर/शाहपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कमलनाथ सभाओं में आरोप लगाते हैं कि भाजपा ने उनकी सरकार चुरा ली। जनता से पूछते हैं कि आखिर उनकी गलती क्या थी? आज मैं उन्हें बताता हूं कि वादा खिलाफी और भ्रष्टाचार उनकी गलती थी। जिसकी वजह से कांग्रेस की सरकार गिरी। उनके शासनकाल में भोपाल का वल्लभ भवन चोरों का गढ़ और भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया था। वहां सिर्फ कमीशन का खेल चलता था।

यह बात रविवार को केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जिले के डोईफोड़िया में आयोजित चुनावी सभा में कही। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर आरोपों के तीर चलाए। उन्होंने कहा कि कमल नाथ के पास कोरोना को नियंत्रित करने के लिए न तो समय था और न योजना, लेकिन सलमान खान और जैक्लीन फर्नांडीस के साथ फोटो खिंचाने का समय था। जो कांग्रेसी कल तक कोरोना वैक्सीन को लेकर तरह-तरह के भ्रम फैलाकर जनता को गुमराह कर रहे थे, वही आज भाग-भाग कर जा रहे हैं और वैक्सीन लगवा रहे हैं। सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि सौ करोड़ लोगों का टीकाकरण करा उन्होंने कीर्तिमान स्थापित किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस की डेढ़ साल की सरकार के समय विकास बेहाल, युवा कंगाल मूल सुविधाओं का अकाल था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने किसका ऋण माफ किया। मैं पूछना चाहता हूं कि 51 हजार कन्यादान योजना में देने का कहा था। किसी के भी खाते में पहुंचा क्या? 51 पैसे भी नहीं आए। सिंधिया ने नावरा, शाहपुर में भी चुनावी सभाओं को संबोधित किया। इस दौरान भोपाल के पूर्व महापौर आलोक मिश्रा, इकबाल सिंह गांधी, नेपानगर विधायक सुमित्रा कास्डेकर, भाजपा जिलाध्यक्ष मनोल लधवे सहित अन्य भाजपा नेता मौजूद थे।

सिंधिया बोले, जो ट्रेनें बंद है उसे दोबारा शुरू कराने का प्रयास करूंगा

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंच से जनता को विश्वास दिलाया कि खंडवा संसदीय क्षेत्र की तीन प्रमुख मांगों को वे चुनाव बाद पूरा कराने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि पहली ज्वलंत मांग खंडवा-अकोला ब्राडगेज लाइन का काम तेज कराने की है। दूसरी मांग नेपानगर में पूर्ववत ट्रेनों का स्टापेज कराने की और तीसरी केला फसल का बीमा शुरू कराने की है। इन तीनों मांगों को पूरा कराने के लिए वे प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि अभी देश और प्रदेश में डबल इंजन की सरकार है। यदि इसे ट्रिपल इंजन की बनाना है तो भाजपा प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल को भारी वोटों से जिताकर दिल्ली भेजना होगा।

बॉक्स..

नंदू भैया को किया याद, आदिवासियों के साथ झूमे

सिंधिया ने मंच पर जाने से पहले स्थानीय आदिवासियों के साथ नृत्य किया। मंच पर पहुंचने पर सबसे पहले मोतीमाता, मुठवा बाबा का जयघोष लगवाया। इसके बाद मराठी भाषा से भाषण की शुरुआत की। बुरहानपुर को वीरों की भूमि और बलिदानी माटी बताते हुए कहा कि देश में स्वराज लाने वाले संघर्ष का बीज इसी माटी से पड़ा था। नंदू भैया को याद करते हुए कहा कि उन्होंने मेरे परिवार की तीन पीढ़ियों के साथ काम किया है। पहले उन्होंने मेरी दादी के साथ, फिर पिता के साथ काम किया। मेरा सौभाग्य था कि मुझे भी उनके साथ काम करने का अवसर मिला। वट वृक्ष रूपी नंदूभैया का साया पूरे मप्र पर था, जो कोरोनाकाल में हमारे सिर से छिन गया है। उनकी पहचान निमाड़ की नैया नंदूभैया के रूप में थी। हर्षवर्धन सिंह चौहान ने कहा कि यकीन नहीं होता कि उनके पिता सबको छोड़कर जा चुके हैं। ऐसा लगता है कि कल की ही बात है, जब वे सिंधिया के साथ विधानसभा उपचुनाव के दौरान दर्यापुर की सभा में मौजूद थे। यह नंदूभैया की सीट है किसी और की झोली में नहीं जानी चाहिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local