बुरहानपुर। (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश के कद्दावर भाजपा नेता नंदकुमारसिंह चौहान की पार्थिव देह बुधवार को उनके गृहग्राम शाहपुर में पैतृक खेत में पंचतत्व में विलीन हो गई। शोकसभा में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने घोषणा की कि खंडवा के मेडिकल कॉलेज का नाम अब नंदकुमारसिंह चौहान कॉलेज होगा। शाहपुर के चौक में बड़ी प्रतिमा स्थापित होगी तो यहां के नगर परिषद का भवन, बुरहानपुर में बनने वाला गन्ना अनुसंधान केंद्र और नवनिर्मित जिला अस्पताल उनके नाम से जाना जाएगा। दो बार ऐसा अवसर आया, जब सीएम रो पड़े। उन्हें मंत्री तुलसी सिलावट और अन्य नेताओं ने सांत्वना दी।

कांग्रेस नेता अरुण यादव ने कहा कि निमाड़ के सबसे सरल, सौम्य स्वभाव के नेता नंदू भैया का चले जाना अंचल के लिए अपूरणीय क्षति है। राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने नंदू भैया को सच्चा जननायक बताया। विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने भी शोक संवेदना व्यक्त की। शवयात्रा और अंतिम संस्कार कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद पटेल, नरेंद्रसिंह तोमर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश के मंत्री गोपाल भार्गव, कमल पटेल, प्रेमसिंह पटेल, खरगोन सांसद गजेंद्र पटेल, राकेश सिंह सहित कई अन्य नेता भी शामिल हुए। सभी ने पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टि हुई।

नंदकुमार सिंह चौहान की पार्थिव देह बुधवार अलसुबह उनके गृहग्राम शाहपुर पहुंची थी। अंतिम दर्शन के लिए उनकी पार्थिव देह को आंगन में रखा गया। सुबह से ही उनके दर्शन लिए लोगों का तांता लग रहा।चौहान की शवयात्रा में उमड़ा जनसैलाब। खेत पर किया अंतिम संस्कार।

गौरतलब है कि भाजपा के दिवंगत नेता नंदकुमार सिंह चौहान की अंतिम इच्छा के अनुरूप बुधवार दोपहर उनका अंतिम संस्कार शाहपुर स्थित उनके खेत में किया गया। करीब तीन एकड़ के इस खेत में केला और चने की फसल बोई गई थी। यह फसल अभी पूर तरह पक भी नहीं पाई थी। अंतिम संस्कार और इसमें जुटने वाली भीड़ को देखते हुए परिवारजनों ने मंगलवार को मजदूर लगाकर पूरी फसल कटवा दी।

जानकारी के मुताबिक स्व. नंदकुमार सिंह चौहान ने इच्छा जताई थी कि उनकी देह को पैतृक भूमि में ही पंचतत्वों में विलीन किया जाए। खेत पर अंतिम संस्कार के लिए ऊंचा अंत्येष्टी स्थल तैयार किया गया । बुधवार को शाहपुर नगर सहित आसपास के लगभग सभी गांवों में शोक की लहर छाई रही। नगर के लगभग सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे।

व्यापारियों का कहना था कि उन्होंने अपने लाडले नेता को खो दिया है। सांसद के गृहग्राम शाहपुर में दूसरे दिन भी कर्फ्यू जैसा नजारा दिखाई दिया। पूरे नगर में सन्नाटा पसरा रहा। वहीं शाहपुर-बुरहानपुर में दिनभर इंटरनेट मीडिया पर नंदू भैया को श्रद्धांजलि देने का दौर जारी रहा।

सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के अंतिम संस्कार कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम हेलिकॉप्टर से खंडवा पहुंचे। यहां से वे कार से शाहपुर के लिए रवाना हुए उनके साथ मंत्री संजय पाठक, रामपाल सिंह और गोपाल भार्गव भी साथ थे।

मंत्री तुलसी सिलावट भोपाल से ट्रेन से खंडवा और यहां से वे कार से शाहपुर के लिए रवाना हुए। इसी तरह से दोपहर करीब 12:00 बजे विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम का हेलिकॉप्टर खंडवा स्थित नागचुन हवाई पट्टी पर उतरा उनके साथ हेलिकॉप्टर में पूर्व मंत्री संजय पाठक रामपाल सिंह मंत्री कमल पटेल और गोपाल भार्गव भी सवार थे।

हवाई पट्टी पर जिला प्रशासन के अधिकारियों ने सभी की अगवानी की। इसके बाद वे सभी शाहपुर के लिए खंडवा से रवाना हुए। उनके काफिले को लेकर शहर में ट्रैफिक डायवर्ट किया गया। इससे की काफिला आसानी से शहर की सीमा से बाहर निकल जाए। पुलिसकर्मियों ने चौराहे पर यातायात व्यवस्था संभाली।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags