Road Safety Campaign Burhanpur: बुरहानपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सामाजिक सरोकार से जुड़े नईदुनिया के यातायात जागरूकता अभियान के तहत बुधवार को शाहपुर के विवेकानंद कालेज में यातायात की पाठशाला लगाई गई। इस दौरान प्राचार्य आरती ठाकुर, शिक्षक जकी अनवर अंसारी, संजय राउत, मनोज राजपूत सहित अन्य शिक्षकों ने विद्यार्थियों को यातायात नियमों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वाहन चलाते समय हमें घर के नहीं बल्कि सड़कों के नियम मानने होंगे। यदि हम ऐसा नहीं करते तो इस बात की संभावना कम हो सकती है कि हम सुरक्षित घर लौटेंगे। विशेषज्ञों ने कहा कि जीवन के लिए सड़क सुरक्षा बेहद जरूरी है।

वाहन चलाते समय हेलमेट पहनना और यातायात के नियमों का पालन करना हर नागरिक का कर्तव्य है। हर साल लोगों को जागरूक करने के लिए सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाता है। सड़क पर वाहन चलाते समय हमें कोई नियम बताने वाला नहीं होता। हमें सड़कों के किनारे लगाए गए संकेतकों को पहचान कर वाहन चलाना होता है। इनमें आगे आने वाले अंधे मोड़, स्पीड ब्रेकर, संकरा रास्ता जैसे संकेतक शामिल होते हैं। यदि हम इनका गंभीरता से पालन करें तो दुर्घटनाओं से बच सकते हैं। शिक्षकों ने कहा कि यह बेहद गंभीर विषय है। क्योंकि जान है तो जहान है।

पार्किंग में वाहन खड़ा करें

संजय राउत ने कहा कि हम शहर में जाते हैं तो अपना वाहन पार्किंग में ही खड़ा करना चाहिए। इससे वाहन भी सुरक्षित रहता है और दूसरे लोग अनावश्यक परेशानी से बच जाते हैं। उन्होंने कहा कि हमें अपनी लेन से ही आवागमन करना चाहिए। कई बार बीच सड़क पर वाहन चलाना घातक सिद्घ होता है। इसके अलावा पैदल भी यदि चल रहे हैं तब भी हमें नियमों के दायरे में रह कर चलना होगा। ऐसा नहीं करने पर भी दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। इस दौरान प्रमोद महाजन, मनोज कोथलकर, अरुण महाजन भी मौजूद थे।

छात्रा आरती ने साझा किए अनुभव

कालेज की छात्रा आरती तायड़े ने अन्य विद्यार्थियों के साथ सड़क सुरक्षा को लेकर अपने अनुभव साझा किए। आरती ने कहा कि बीते माह कालेज के पास छात्राओं से भरा एक आटो दुर्घटना का शिकार हो गया था। इस हादसे में कालेज की तीन छात्राओं का असमय निधन हो गया था। इस आटो में वह भी सवार थी और गंभीर रूप से घायल हुई थी। मौत का वह मंजर उसने बेहद करीब से देखा था। इसके बाद से उसे अहसास हुआ कि यातायात के नियमों का पालन करना कितना जरूरी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close