छतरपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शुक्रवार को वेलेंटाइन-डे के मौके पर खासी चहल पहल रही है। महर्षि विद्या मंदिर के द्वारा आयोजित विशेष कार्यक्रम में बच्चों ने संस्कार व अनुशासन की शपथ लेकर इस खास दिन को प्रेरणास्पद बना दिया है।

शुक्रवार को सुबह से ही शहर में वेलेंटाइन-डे का उत्साह दिखाई दिया। शहर में जगह-जगह तरह तरह के गुलाब के फूलों के स्टॉल सज गए थे। गिफ्ट आयटम की दुकानों पर खासी गहमागहमी दिखाई दी। जैसे-जैसे दिन चढ़ा वैसे-वैसे प्रेमी युगल अपने घरों से प्रेम का इजहार करने निकलने लगे। वहीं पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत बजरंग दल के युवा इनपर पहरा लगाने निकल पड़े। बजरंग दल ने इस दिन को पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों की शहादत को याद करते हुए पुलिस लाइन स्थित शहीद स्मारक पर जाकर पुष्प अर्पित करके उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद बजरंगी बाइकों पर सवार होकर प्रेमियों को खोजने के लिए निकल पड़े। शहर में पूर्व से चि-ति स्थानों पर निगरानी की गई। इस दौरान बजरंग दल के जिला संयोजक सौरभ खरे, जिला सह संयोजक सुरेंद्र शिवहरे, नगर सह संयोजक पंकज पिपरिया, अजय बिंदुआ, नगर सुरक्षा प्रमुख आशीष बिंदुआ, नगर विद्यार्थी प्रमुख अर्पित द्विवेदी, सह महाविद्यालय प्रमुख ललित खरे, नितिन द्विवेदी सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

नोट- फोटो 27 का कै प्सन है-

छतरपुर। शहीदों को नमन करते बजरंगी।-27

वैल-इन-टाइम का संकल्प लेकर समय को पहचानें

शुक्रवार को सुबह छत्रसाल चौराहे पर महर्षि विद्या मंदिर के द्वारा एक संक्षिप्त मगर प्रेरक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें वेलेंटाइन-डे को संस्कार-अनुशासन दिवस के रूप में मनाया गया। इस दौरान अतिथियों, शिक्षकों और विद्यार्थियों ने संस्कार व अनुशासन की शपथ लेकर शपथ पत्र भरे। प्राचार्य सीके शर्मा ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारा राष्ट्र श्रेष्ठ तभी बनेगा जब हम अपने आचरण में नैतिक मूल्यों को जगह देंगे, अनुशासित रहेंगे। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाजसेवी हरिप्रकाश अग्रवाल थे।

नोट- फोटो 28 का कै प्सन है-

छतरपुर। कार्यक्रम में मौजूद बच्चे व अतिथि।-28

मुरम का अवैध उत्खनन जारी

छतरपुर। नारायणपुरा से टुरया रोड पर कई स्थानों पर मुरम की अवैध खदानें चल रही हैं। यहां से प्रतिदिन बड़ी तादात में अवैध रूप से मुरम खोदकर उसका परिवहन किया जा रहा है। लोगों का कहना है कि जब जिला मुख्यालय से केवल तीन किमी दूरी पर स्थित ग्राम नारायणपुरा में मुरम के अवैध उत्खनन का यह हाल है तो जिले के दूरस्थ स्थानों के हालात कैसे होंगे। लोगों ने प्रशासन पर अवैध उत्खनन को बढ़ावा और संरक्षण देने के आरोप लगाए हैं।

पर्यटक ग्राम बसारी में कल से बिखरेगी बुंदेली संस्कृति की छटा

छतरपुर। पर्यटक ग्राम बसारी में 16 से बुंदेली उत्सव का आयोजन किया जाएगा। जिसमें लोक कला व संस्कृति से बुंदेली छठा बिखरेगी। यह आयोजन 22 फरवरी तक चलेगा।

बुंदेली उत्सव के लिए पर्यटक ग्राम बसारी के स्टेडियम को आकर्षक तरीके से सजाया संवारा गया है। इस आयोजन की तैयारियां अब अंतिम चरण में हैं, जिसमें एक विशाल कला मंच तैयार किया गया है। जिसे लोककला से चित्रित किया गया है। इस उत्सव के दौरान बुंदेली साहित्यकारों, इतिहासकारों और कवियों को भी सम्मानित किया जाएगा। इस आयोजन में बुंदेली नाटक, लोकगीत, लोक नृत्य, बुंदेली व्यंजन, कुश्ती प्रतियोगिता, अश्वनृत्य, बैलगाड़ी दौड़ होगी। बुंदेली उत्सव को संजोने वाले पूर्व विधायक शंकर प्रताप सिंह ने बताया कि गांव-गांव में टीवी चैनलों के प्रभाव से लुप्त होते जा रहे विशुद्ध बुंदेली गायन व नृत्यों जैसे दिवारी, रावला, कछयाई, बरेदी नृत्य, दलदल घोड़ी नृत्य और लोक गायन में ख्याल, कहरवा, लमटेरा, कार्तिक गीत, गोटे गायन, आल्हा-बधइया व ढिमरयाई सहित सोहरे, दादरा, बिलवारी, गारी, बनरे, सैर, फाग गायन व राई नृत्यों को पुनर्जीवित करके इन लोक कलाओं के संरक्षण व संवर्धन की दिशा में प्रभावी की है। इस उत्सव के माध्यम से बुंदेली कला को बढ़ावा देने एवं लोक कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच मिलने लगा है।

सड़कों पर जाम से लोग परेशान

छतरपुर। शहर में मुख्य बाजार सहित हाइवे पर पसरे अतिक्रमण के कारण दिन में कई बार वाहन जाम में फंस जाते हैं। सड़कों पर अतिक्रमण व वाहनों के जाम से लोगों का पैदल चलना मुश्किल हो गया है। छत्रसाल चौराहे से महल रोड, सिटी कोतवाली, गांधी चौक, हटवारा से बस स्टेण्ड तक पूरा रास्ता अतिक्रमण की चपेट में है। यहां दुकानों के आगे दो से तीन फु ट तक अतिक्रमण जमा लिया गया है। इस मार्ग पर कई बार अतिक्रमण हटाया गया लेकिन मुहिम थमते ही फिर से अतिक्रमण जमा लिया गया। लोगों का आरोप है कि अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन आज तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर सका है जिससे यह समस्या बढ़ती जा रही है। लोगों ने मुख्य मार्ग से स्थाई रूप से अतिक्रमण हटाने की मांग की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket