छतरपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

इस समय पूरे उत्तर भारत भीषण गर्मी और लू का प्रकोप तेज है। पछुआ हवाओं के कारण आसमान से आग बरस रही है। अंचल में लगातार दूसरे दिन शनिवार को भी पारा 48 डिंग्री पर टिके रहने से ऐसा महसूस हो रहा है मानो पूरा अंचल झुलस गया हो।

शनिवार को नौगांव में अधिकतम तापमान 48 डिग्री, न्यूनतम 26.5 डिग्री और खजुराहो में अधिकतम 47.0 व न्यूनतम 20.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। भीषण गर्मी से लोग बेहाल हैं वहीं जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लोगों की दिनचर्या भी प्रभावित हुई है। भोपाल के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी वेदप्रकाश सिंह के अनुसार अभी तक आंध्र प्रदेश पर कम दवाब का क्षेत्र बना था, जो खत्म हो जाने से तापमान में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है। 15 मई की रात से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा और हवा का रूख उत्तर पश्चिमी होने से 16 मई से तापमान में कमी आना शुरू हो जाएगी। इसके बाद 19 से 26 मई तक गर्मी का आखिरी दौर रहेगा। इस दौरान तापमान भी बढ़ेगा और लू भी चलेगी। उन्होंने बताया कि इस बार मानसून समय से आने की संभावना है। दरअसल समय से चार दिन पहले मानसून केरल पहुंचेगा। इस बार मानसून सामान्य रहेगा निराश नहीं करेगा। चिकित्सकों ने लोगों को गर्मी से सावधानी बरतने की सलाह दी है।

गर्मी ने बढ़ाई लोगों की परेशानी

इस समय पश्चिम की ओर से रेगिस्तान को छूकर आने वाली हवाएं तपन को बढ़ा रही हैं। लू के थपेड़े लोगों को झुलसा रहे हैं। इस झुलसा देने वाली गर्मी से लोगों को न घर में चैन है, न बाहर। शनिवार को सुबह से आसमान से आग बरसने लगी। इसके चलते दिनभर लोग परेशान रहे। वहीं दोपहर में गर्म हवाओं के चलते सड़कों पर सन्नााटा पसर गया। गर्म हवा के चलते पंखे और कूलर भी असर नहीं कर रहे हैं। दोपहर बाद सूरज ढलने पर लोगों ने कुछ राहत की सांस ली। लोग अपने घरों से सुबह या शाम को ही बाहर निकल रहे हैं वहीं जिनके लिए दोपहर में बाहर निकलना मजबूरी है वे शरीर को स्टाल, चुन्नाी, तौलिया, कैप, चश्मा से ढंककर ही निकल रहे हैं। भीषण गर्मी से इंसानों के साथ-साथ जीव-जंतु भी प्रभावित हो रहे हैं। कई ऐसे स्थान है जहां पानी का अभाव है वहां लोग दूर से पानी ढोकर ला रहे हैं। वहीं जीव-जंतु भी प्यास से तड़प रहे हैं।

पक्षियों के लिए टांगे पानी भरे सकोरे

भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष बाबी राजा गठेवरा ने मोर्चा के राहुल, अजय तिवारी, राजेश पटेल, गयादीन पटेल, संदीप दीक्षित, विक्रम राजा, राजेश पटेरिया ने भीषण गर्मी में पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए शनिवार को शहर के नरसिंह मंदिर सहित कई मंदिरों और प्रमुख स्थानों पर पानी से भरे सकोरे टांगे हैं। बाबी राजा ने लोगों को इस कार्य के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों के लिए पानी की समस्या विकराल हो जाती है। इस समय हम सभी का दायित्व है कि पशुओं के लिए पानी की टंकियां रखें व पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए सकोरे जरूर टांगें।

एक हफ्ते का तापमान डिग्री सेल्सियस में

----------------------------

दिनांक- अधिकतम- न्यूनतम

----------------------------

14 मई- 48.0- 26.6

13 मई- 41.6- 26.0

12 मई- 41.5- 26.0

11 मई- 42.2- 24.5

10 मई- 44.5- 24.7

09 मई- 42.3- 24.5

08 मई- 41.8- 22.5

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local