पाइप लाइन डालकर नहीं की खुदी सड़कों की मरम्मत, आवागमन में परेशानी

छतरपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अमृत जल योजना के तहत लोगों के घरों तक पानी पहुंचाने के लिए नगर की सारी सड़कों को पाइप लाइन डालने के लिए खोद डाला है। कई जगह खुदी हुए सड़क में पुराव नहीं किया है जहां पुराव किया वहां सीमेंटेड करना जिम्मेदार भूल गए हैं। जिससे आवागमन में परेशानी होने के साथ लोगों का चलना ही मुश्किल हो गया है।

करीब तीन साल से अमृत जल योजना के तहत सीसी रोड खोदकर उनमें पाइप लाइन बिछाने का काम किया जा रहा है। नगर के 40 वार्डों में ठेकेदार द्वारा नगर की सीसी रोड को मनमाने तरीके से खोदकर पाइप लाइन डाली गई है। जहां लोग सतर्क रहे वहां तो समय से पुराव व मरम्मत कर दी गई और जहां लोगों ने ध्यान नहीं दिया वहां खुदी पड़ी सड़कों की मरम्मत करना तो दूर, खाइयों में सही तरीके से मिटटी से पुराव ही नहीं किया गया है। जिससे वहां लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। अकसर लोग इन खाइयों में गिरकर चोटिल हो रहे हैं, आवाजाही में खासी परेशानी हो रही है। दो पहिया वाहन गडढ़ों में गिरकर दुर्घटना के शिकार हो जाते है। शहर के शुक्लाना मोहल्ला के लोगों ने बताया कि यहां हनुमान मंदिर के समीप करीब 25 दिनों से खुदी पड़ी सड़कों के कारण लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। आए दिन वाहनों से गिरकर लोग हादसे के शिकार हो रहे हैं। मोहल्ले के कई बुजुर्ग और बच्चे सुबह-शाम यहां से साईकिल से गुजरते हैं, वे सड़क खुदी होने की वजह से अकसर गिरकर घायला हो जाते हैं। नाराज लोगों का कहना है कि नल-जल योजना के तहत शहर में बिछाई जा रही पाईप लाइन से लोगों को अभी तक पानी तो नहीं मिला अलबत्ता परेशानी अधिक हो रही है। पाईप लाइन डालने के लिए सडकें खोदी जाती हैं, लेकिन पाईप लाइन डालकर मरम्मत करने में महीनों लग जाते हैं। लोगों का आरोप है कि खुदी पड़ी सड़कों के कारण आम लोगों को होने वाली परेशानी से अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को कोई सरोकार और चिंता नहीं है। इसी कारण खोदी गई सड़कों की मरम्मत नहीं की जा रही है। स्थानीय निवासियों ने अपने स्तर से यह बात नगर पालिका तक पहुचाई है, बावजूद इसके स्थिति अभी तक जस की तस है। इस लापरवाही को लेकर लोगों में आक्रोश पनप रहा है, जो कभी भी सड़कों पर फूट सकता है।

-------------------

इनका कहना है-

शहर में जहां भी अमृत जल योजना के तहत पाइप लाइन बिछा दी गई है वहां सड़क की पूरी तरह से मरम्मत के लिए ठेकेदार को तुरंत निर्देशित किया जाएगा।

ओमपाल सिंह भदौरिया

सीएमओ, नगर पालिका छतरपुर

गांव तक खराब हो गया पहुंच मार्ग

नौगांव अनुविभाग की ग्राम पंचायत सुनाटी के ग्राम कुदैल में पहुंच मार्ग खराब होने के कारण ग्रामीणों को आवागमन में परेशानी होती है। ग्रामीण काफी समय से पहुंच मार्ग का पक्का निर्माण कराने की मांग कर रहे है। ग्रामीणों ने बताया कि मुख्य मार्ग से गांव तक करीब 1 किमी का उबड़-खाबड़ कच्चा रास्ता है। जो जरा सी बारिश में कीचड़ में तब्दील हो जाता है। तब यहां से वाहन तो दूर लोग पैदल भी नहीं निकल पाते हैं। रास्ता खराब होने से प्रसूताओं व किसी बीमार को अस्पताल तक ले जाना मुश्किल हो जाता है। ग्रामीणों का कहना है कि कुछ ही दिनों में बारिश शुरू हो जाने से उनकी समस्या बढ़ जाएगी। इस समस्या की ओर पंचायत व अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि चुनाव के समय सभी जनप्रतिनिधि यहां आकर सड़क बनवाने का वादा कर जाते हैं पर चुनाव के बाद कोई भी गांव की सुध नहीं लेता है।

बारिश में सड़क पर चलना होता है मुश्किल

छतरपुर जिला मुख्यालय से करीब 55 किमी दूर स्थित गौरिहार जनपद पंचायत के ग्राम जरैला में मुख्य मार्ग तक सड़क न होने से ग्रामीणों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सूखे मौसम में तो गांव के लोग किसी तरह सेपथरीली जमीन पर चल लेते हैं पर बारिश में हालात खराब हो जाते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि अब बारिश शुरू होने में करीब 20 दिन बाकी हैं, अब उनकी मुसीबत फिर से बढ़ जाएगी। बारिश के समय रास्ते में कीचड़ से गुजरना पड़ता है। आवागमन में परेशानी के कारण गांव के बच्चे पढ़ाई छोड़ देते हैं। किसी के बीमार होने पर और मुसीबत आ जाती है। गांव में समय पर न तो एंबुलेंस पहुंच पाती है, न कोई दूसरा वाहन बीमारों को अस्पताल पहुंचा पाता है। ग्रामीणों का कहना है कि सड़क बनवाने का आश्वासन तो नेता और अधिकारी दौनों देते हैं पर आज तक सड़क नहीं बन पाई है।

-----------------

इनका कहना है-

अब पंचायत चुनाव के बाद गांवों की सड़क सहित अन्य समस्याओं का समाधान प्रमुखता से कराया जाएगा।

एबी सिंह

सीईओ, जिला पंचायत छतरपुर

शुक्लाना मोहल्ला में खराब पड़ी सड़क।-04

ग्राम जरैला में कीचड़ भरी सड़क। फाइल फोटो-05

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close