लवकुशनगर (नईदुनिया न्यूज)। ग्राम पंचायत के सचिव मनमाने तरीके से काम कर रहे हैं। एक महिला का परिवार आइडी से नाम काट दिया गया। नाम काटने के लिए महिला को मृत दर्शा दिया गया। अब महिला अपना नाम जुड़वाने के लिए अधिकारियों के चक्कर काट रही है, लेकिन उसका नाम नहीं जोड़ा जा रहा है। मामला चुरयारी गांव का है। एसडीएम राकेश परमार ने जांच कर महिला का नाम जुड़वाने की बात कही है।

प्रदेश सरकार की ओर से तमाम लाभकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए पात्र हितग्राही का समग्र सुरक्षा मिशन के तहत परिवार आइडी में नाम होना जरूरी रहता है। गौरिहार जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम रेवना में रहने वाली पूजा अहिवार की 2017 में चुरयारी गांव में शादी हुई तो गांव की आइडी में उन्हें मृत दर्शाकर नाम काट दिया गया। पूजा जब चुरियारी में नाम जुड़वाने के लिए गईं तो उन्हें मालूम हुआ कि मायके के गांव की आइडी से उन्हें मृत दर्शाकर नाम काट दिया गया है। इससे चुरियारी गांव की परिवार आइडी में नाम नहीं जुड़ पाएगा। अब पूजा खुद को जीवित साबित कर नाम जुड़वाने के लिए रोजाना सुबह से देर शाम तक सरकारी कार्यालयों में अधिकारियों के चक्कर काटती नजर आ रही हैं। पूजा का कहना है कि पिछले डेढ़ साल से भटक रही हूं, लेकिन परिवार आइडी में नाम नहीं जुड़ सका है। इसको लेकर नईदुनिया संवाददाता ने एसडीएम राकेश परमार से बात की। एसडीएम ने भरोसा दिलाया है कि वे जांच कर पूजा का नाम जुड़वाने में मदद करेंगे। साथ ही पूजा को मृत दर्शाने वाले कर्मचारी पर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close