छतरपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर के बीच से गुजरे झांसी-खजुराहो नेशनल हाइवे पर दम-कदम पर मौत खड़ी हो रही है। दरअसल हाइवे पर बीच में लगे बिजली के खंभे, ट्रांसफार्मर और पेड़ यहां से गुजरने वालों के लिए जानलेवा साबित हो रहे हैं। यहां कई हादसे हो चुके हैं, जिनमें आधा दर्जन निर्दोषों की जान भी जा चुकी है। मगर प्रशासन के नुमाइंदे आमजन की सुरक्षा और हाइवे पर सुरक्षित यातायात को लेकर गंभीर नहीं दिखे हैं।

बदहाली, लापरवाही और उपेक्षा का आलम यह है कि शहर के हाइवे किनारे ही दुकानें लग रही हैं, हाट बाजार सजे हैं और वाहनों की पार्किंग रही है। इस अव्यवस्था की अनदेखी से लगता है कि प्रशासन किसी बड़ी अनहोनी का इंतजार कर रहा है। शहर के बीच से निकले झांसी-खजुराहो नेशनल हाइवे पर नगर पालिका ने नौगांव रोड से लेकर पन्नाा रोड पर डिवाइडर बनने के साथ बीच सड़क पर लगे बिजली के सभी पोल और ट्रांसफार्मर अभी तक किनारे पर शिफ्ट नहीं हो सके हैं। कई जगह हाइवे की राह में कई पेड़ बाधा बने हैं। स्थिति यह है कि एक तरफ बस स्टैंड से नौगांव रोड तक बीच सड़क पर जगह-जगह बिजली के पोल और ट्रांसफार्मर मौत बनकर खड़े हैं। बस स्टैंड के सामने नारायणपुरार रोड के मोड़ पर एक पेड़ यातायात में बाधक बना है। दूसरी ओर पन्नाा रोड पर पीएचई के सामने हरे पेड़, स्टेडियम के सामने ट्रांसफार्मर के पोल, गर्ल्स कालेज के सामने एक पोल सहित ऐसे ही कई पोल हाइवे पर हादसों की वजह बने हैं। ट्रांसफार्मर के इन पोल से कई बार ट्रक सहित अन्य वाहन टकरा चुके हैं। इन डेंजर जोनों में आए दिन सड़क हादसे हो रहे हैं।

रफ्तार पर नहीं कोई नियंत्रणः

छतरपुर शहर के बीच से निकले रीवा-ग्वालियर व सागर-कानपुर नेशनल हाइवे पर वाहनों की रफ्तार अनियंत्रित है। यहां हर दिन तेज रफ्तार ट्रक, डंपर, ट्रैक्टर और अन्य बड़े वाहन मौत बनकर फर्राटा भर रहे हैं। इनके खिलाफ ठोस कार्रवाई न होने से वाहन चालक बेलगाम बने हैं। नौगांव रोड से लेकर पन्नाा नाका तक रोड डिवाइडर में जगह-जगह बीच से कट बने हैं, लेकिन इन जगहों पर स्पीड ब्रेकर न होने के कारण आए दिन तेज रफ्तार वाहनों से हादसे हो रहे हैं। लोगों का कहना है कि यातायात सुरक्षा की द्ष्टि से शहर के बीच से गुजरने वाले हाइवे पर जगह-जगह स्पीड ब्रेकर और संकेतक होने चाहिए, लेकिन शहर में कहीं भी यह जरूरी व्यवस्था नहीं है।

हाइवे पर बेतरतीब पार्किंग से बढ़ा खतराः

तेजी से बढ़ते शहर के कारण संसाधन कम पड़ने लगे हैं, जिम्मेदार के ध्यान न देंने से हालात गंभीर हो रहे हैं। हाइवे पर बने लोडर वाहनों का स्टेंड बनने, बेतरतीब तरीक से वाहनों की पार्किंग ने राह पर जाम कर दिया है। शहर के सबसे व्यस्ततम मार्ग जवाहर मार्ग पर जवाहर पेट्रोल पंप के आगे लोडर वाहनों की अवैध रूप से पार्किंग ने हादसों की खतरा बढ़ा दिया है। यहां खड़े होने वाले लोडर वाहनों के कारण हाइवे से गुजरने वाले वाहन अकसर जाम में फंस जाते हैं। लोडर वाहन स्टेंड पर दिन भर बैठने वाले वाहन स्टाफ के ड्राइवर और क्लीनर अकसर लड़ाई-झगड़ा करके हंगामा करते हैं। लोगों का कहना है कि इन लोडर वाहनों को जवाहर पेट्रोल पंप के आगे हाइवे से हटाकर कहीं ओर खड़े कराना ाचाहिए, जिससे लोगों को जाम और परेशानी से राहत मिल सकती है।

शहर की यातायात व्यवस्था तेजी से बिगड़ रही है। आए दिन सड़क हादसे हो रहे हैं, लेकिन यातायात पुलिस व्यवस्था ठीक करने की जगह केवल वाहनों से वसूली करने में लगी है। जो चिंतनीय और जिम्मेदारों के लिए विचारणीय है।

मनोज सक्सेना

व्यवसाई, छतरपुर

नौगांव रोड से पन्नाा रोड तक कई जगह बिजली के पोल, ट्रांसफार्मर और पेड़ सड़क के बीच में लगे होने से यहां अकसर सड़क हादसे होते रहते हैं। प्रशासन को इन्हें हटाने पर प्रमुखता से ध्यान देना चाहिए।

घनश्याम दास गुप्ता

व्यवसाई, छतरपुर

शहर को व्यविस्थत व सुंदर बनाने की बातें तो सभी अधिकारी करते हैं पर इस दिशा में सार्थक पहल अभी तक नहीं की गई है। सबसे जरूरी है कि सड़कों के बीच में लगे बिजली के पोल व पेड़ों का तत्परता से हटाया जाए और वाहनों की पार्किंग के लिए स्थान तय किया जाए।

विजय पाठक

शिक्षक, छतरपुर

वर्जन--

अभी बाजार में व्यापारियों को सड़कों से अपने सामान स्वतः हटाने की चेतावनी दी है। शहर में सही जगह चिन्हित करके वाहनों की पार्किंग बनाने की प्रकिया जारी है। जवाहर पेट्रोल पंप के आगे लोडर वाहनों की अवैध पार्किंग सहित शहर की सड़कों से अतिक्रमण हटाकर आवागमन सुचारू बनाने की दिशा में शीघ्र ही ठोस कार्रवाई होगी।

यूसी मेहरा

एसडीएम, छतरपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local