- पीड़ित ने अन्य कर्मचारियों पर लगाए विभागीय भ्रष्टाचार और जातिवाद के आरोप

ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। छतरपुर के पीएचई विभाग में पदस्थ लेखापाल की मारपीट उसके साथी कर्मचारियाें ने कर दी। हालांकि पीडि़त कर्मचारी ने अपनी मारपीट का वीडियो भी बनाया। लेकिन झगड़े में मोबाइल गिर गया और मारपीट तो रिकार्ड नहीं हुई, केवल आवाज ही रिकार्ड हो पाई। यह वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया। खासबात यह है कि लेखापाल को कर्मचारियों ने करीब आधा घंटे तक पीटा। पुलिस ने लेखापाल की शिकायत पर कार्यालय में मारपीट करने वाले कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज करया है।

घटनाक्रम के मुताबिक छतरपुर के पीएचई विभाग में आनंद दयाल लेखापाल के पद पर पदस्थ है। आनंदपाल के मुताबिक विभाग में भ्रष्टाचार चल रहा है। इस बात के सबूत उसके पास है। इसे लेकर ही साथ के कर्मचारियों से विवाद चल रहा था। दोपहर करीब दो बजे ये कर्मचारी झगड़ने लगे। मारपीट करने वाले कर्मचारी उसे पीटने लगे। चूंकि वह भ्रष्टाचार करने वाले कर्मचारियों का उनके गलत काम में सहयोग नहीं करता था। इसलिए वे चिड़े हुए है। आंनद के मुताबिक उसने कर्मचारियों का विरोध किया तो मारपीट पर उतारू हो गए। आनंद के मुताबिक कर्मचारियों ने मेरे प्रायवेट पार्ट व शरीर पर कई जगहों पर कई बार प्रहार किए है। घटना के बाद पीडि़त पुलिस थाने पहुंचा और मारपीट करने वाले कर्मचारियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

वीडियो भी बनाया, लेकिन मारपीट नहीं हुई रिकार्ड

जब झगड़ा बढ़ा तो आनंद को लगा कि कर्मचारी उससे मारपीट करेंगे तो उसने वीडियो बनाना शुरू कर दिया। लेकिन जैसे ही कर्मचारियों ने मारपीट करना शुरू किया वैसे ही उसके हाथ से मोबाइल गिर गया। मोबाइल में मारपीट तो रिकार्ड नहीं हुई, केवल मारपीट की आवाज ही रिकार्ड हुई है। लेकिन यह वीडियो वायरल हो गया है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local