पांढुर्णा (छिंदवाड़ा)। पांढुर्णा के शंकरनगर में बुधवार को विदेशियों की तरह दिखने वाले दंपती ने दुकानदार को झांसा देकर 43 हजार रुपए उड़ा दिए। पुलिस को इसमें ईरानी गैंग पर संदेह है। दिनदहाड़े हुई इस वारदात से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। आरोपितों की तलाश की जा रही है।

45 साल की महिला और उसका साथी कार से दुकान पर आए


इस मामले में पुलिस से मिली जानकारी मुताबिक न्यू च्वाइस मिल्क सेंटर के संचालक राजेश धोटे दोपहर में अपनी दुकान पर बैठे थे। तभी करीब 45 साल की महिला और उसका साथी कार से दुकान पर आए। वे लोअर व टी-शर्ट पहने हुए थे और विदेशियों की तरह नजर आ रहे थे। युवक ने दुकानदार राजेश को कुछ चिल्लर देकर 500 रुपए का नोट मांगा।

विदेशी नोटों की गड्डी दिखाकर भारतीय मुद्रा में उसकी कीमत पूछी

फिर महिला ने उन्हें विदेशी नोटों की गड्डी दिखाकर भारतीय मुद्रा में उसकी कीमत पूछी और बातों में उलझा लिया। इसी दौरान युवक ने दुकानदार की नजर बचाकर उनकी दराज में रखी 500 और 100 के नोटों की खुली हुई गड्डी पार कर दी, जो कुल 43 हजार रुपए थे। फिर वे दंपती वहां से चले गए।

जाने के बाद दुकानदार को वारदात का पता चला

उनके जाने के बाद दुकानदार राजेश को पता चला कि उसके दराज से रुपए गायब हैं। दुकानदार ने आसपास देखा, फिर थाने आकर पुलिस को बताया। पुलिस को संदेह है कि ईरानी गैंग ने यह वारदात की है, क्योंकि पूर्व में भी इस क्षेत्र में हुईं दो-तीन वारदातों में इसी गैंग का हाथ था। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है।

नाकाबंदी की है

अज्ञात आरोपितों पर केस दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है। मामले की गंभीरता देखते हुए क्षेत्र में नाकाबंदी की है। एक पुलिस दल को काटोल, सावनेर, नरखेड़, मुलताई क्षेत्र में भेजा है।

-अरविंद जैन, थाना प्रभारी, पांढुर्णा