प्रदेश में एक दिन में 42 मौत, अब तक 1.13 लाख संक्रमित फिर भी लापरवाही-

छह दिन से 10 फीसद से ज्यादा बनी है संक्रमण दर

भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

प्रदेश में कोरोना को लेकर भयावह स्थिति बनती जा रही है। मंगलवार सुबह 8 बजे से बुधवार सुबह 8 बजे के बीच प्रदेश के 26 जिलों में 42 मरीजों की मौत हुई है। 24 घंटे में मौत का अब तक ये सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसके पहले 19 सितंबर को भी 42 मरीजों की मौत हुई थी। बुधवार को 2346 नए मरीजों के साथ अब तक संक्रमितों का आंकड़ा 113057 हो गया है। सबसे ज्यादा मरीज सितंबर में बढ़े हैं। इसकी वजह यह कि बाजार खुलने के दिन बढ़ के अलावा समय भी बढ़ा दिया गया है। अन्य गतिविधियों पर लगी रोक पर भी धीरे-धीरे छूट दी जा रही है। उधर, लोग अति लापरवाही कर रहे हैं। मास्क नहीं लगा रहे हैं और न ही शारीरिक दूरी का पालन कर रहे हैं। ऐसे ही अनदेखी होती रही तो लोगों को इसकी बड़ी कीमत चुकानी होगी।

कोरोना कितनी खतरनाक स्थिति में पहुंच गया है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रदेश में 23 सितंबर की स्थिति में 22812 सक्रिय मरीज हैं। इनमें करीब 1100 मरीज आइसीयू में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं। बड़े शहरों में गंभीर मरीजों को वेंटिलेटर वाले बिस्तर नहीं मिल पा रहे हैं। इंदौर, भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर में आइसीयू के 95 फीसद से ज्यादा बिस्तर भरे हैं। यहां जिला अस्पतालों के आइसीयू में ही कुछ बिस्तर खाली हैं। 18 सितंबर के बाद से संक्रमण दर (जांचे गए सैंपल में संक्रमितों का प्रतिश 10 फीसद से ऊपर बनी हुई है।

अगस्त की तुलना में सितंबर के 23 दिन में 37 फीसद ज्यादा मरीज मिले

प्रदेश में अगस्त में मरीजों की कुल संख्या 32159 थी। इनमें 527 मरीजों की मौत हुई थी। सितंबर के पहले 23 दिन में ही मरीजों की संख्या 43916 हो गई है। यह अगस्त में मिले मरीजों से 37 फीसद ज्यादा है। इसी तरह से अगस्त के मुकाबले सितंबर में (23 तारीख तक) 16 फीसद ज्यादा मौतें हुई हैं। हर दिन 25 से ज्यादा मरीजों की मौत हो रही है।

आम लोगों की जिम्मेदारी इसलिए ज्यादा जरूरी

-31 अक्टूबर तक प्रदेश में 55 हजार सक्रिय मरीज होने का अनुमान स्वास्थ्य विभाग ने लगाया है। इतने मरीज होने पर अस्पतालों में बिस्तर तक नहीं मिल पाएंगे।

-अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाने के लिए मेडिकल ऑक्सीजन नहीं मिल रही है। डॉक्टर-नर्स भी कम पड़ रहे हैं।

- मरीज बढ़ने के साथ ही गंभीर मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। मौत का आंकड़ा भी बढ़ा है।

23 सितंबर की स्थिति में प्रदेश के हालात

अब तक मिले मरीज 113057

कुल मौत 2077

स्वस्थ हुए 88168

सक्रिय मरीज 22812

स्वस्थ होने की दर 77.98

मृत्यु दर 1.83

संक्रमण दर 5.99

जिला अब तक मिले मरीज सक्रिय मरीज

इंदौर 20834 3954

भोपाल 15643 2057

ग्वालियर 9689 2016

जबलपुर 8381 1336

इस तरह बढ़े संक्रमित

माह संक्रमित मिले मौत

मार्च 66 5

अप्रैल 2559 132

मई 5464 213

जून 5504 261

जुलाई 18213 295

अगस्त 32159 527

सितंबर (23 तारीख तक)43916 614

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020