दमुआ। क्षेत्रीय विधायक सुनील उइके के प्रयास से शहर के प्रवेश द्वार क्षेत्र में विराजित शनि महाराज स्थल के पास मवासी समाज भवन का निर्माण हेतु मवासी समाज संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष राम सिंग कायदा, सरपंचअशोक शीलू सरपंच प्यारे लाल बोसम संगठन मंत्री नवल सिंग दर्शमा, रामदास कायदा, हीरालाल ढीकू और जनपद पंचायत जुन्नाारदेव उपाध्यक्ष सोहनसिंह सरेयाम द्वारा भूमि पूजन किया गया। क्षेत्र के मवासी समाज ने विधायक का आभार माना है ।

पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता कमल फूल के लिए काम करें

दमुआ। हमारा कार्यकर्ता ही हमारी असली ताकत है। पार्टी का काम निष्ठा और ईमानदारी से करें। अपनी सरकार की योजनाओं को शहर और गांवों के जन-जन तक पहुंचाएं, इसी में पार्टी और हमारा मान सम्मान है। इस आशय के उद्गार रविवार को पूर्व विधायक ताराचंद बावरिया ने दमुआ नगर मंडल कार्यकारिणी में शामिल कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने बतौर मुख्य वक्ता कार्यकर्ताओं के बीच केंद्र सरकार के पारित किसान बिल की बारीकियों को भी कार्यकर्ताओं के बीच रखा और आह्वान भी किया कि किसानों के बीच पहुंचकर सरकार के इस बिल की अच्छाइयों से उन्हें अवगत भी कराएं, ताकि हमारे किसान भाई इसके पीछे उनके हित की मंशा को समझ सकें। हाल ही में घोषित शहर मंडल कार्यकारिणी के दायित्ववान पदाधिकारियों के मिलन समारोह के बहाने संगठन ने कामकाजी बैठक का आयोजन स्थानीय लॉन में किया था। बैठक के प्रभारी जगेंद्र अल्डक ,पूर्व विधायक नत्थन शाह कवरेती, विधानसभा प्रभारी आशीष ठाकुर ने भी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। अपने अपने संबोधन में अधिकतर वक्ताओं ने कार्यकर्ताओं को यही समझाने की कोशिश की कि सबसे छोटी इकाई को ही मजबूत करके हम भोपाल और दिल्ली की सत्ता तक पहुंच सकते हैं, लिहाजा कार्यकर्ता बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करें।

प्रकाश स्वामी ने दी कोरोना को मात

घर पहुंचने पर जैन परिवार ने मनाया 76वां जन्म दिवस

छिंदवाड़ा। अगर आप प्रतिदिन नियमित रूप से समय पर ध्यान एवं योग करते हैं साथ ही सदाचार शाकाहार में विश्वास रखते हैं तो कोरोना ही नही सभी प्रकार की गंभीर बीमारियां आपसे कोषों दूर ही रहेंगी। यह कहना है सेवानिवृत नाजिर जिला एवं सत्र न्यायालय छिंदवाड़ा के स्वामी प्रकाशचंद्र जैन का, जो 76 साल की उम्र में कोरोना को मात देकर घर लौटे।

26 सितंबर को प्रकाश स्वामी की ऑक्सीजन कम हो जाने के कारण उनके बेटे दीपकराज जैन ने डॉ. शिखर सुराना रेडियोलॉजिस्ट एवं डॉ. संदीप जैन एमडी मेडिसन से चर्चा की। जिनकी सलाह पर डॉ. सौभाग्य जैन ने प्रकाश स्वामी को जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड में भर्ती कर तुरंत ही उपचार प्रारंभ कर दिया और ऑक्सीजन लगाकर कोविड का सैंपल भी लिया। 2 अक्टूबर को आई रिपोर्ट में प्रकाश स्वामी पॉजिटिव पाए गए। चूंकि उन्हें पैरालेसेस है फिर भी वे जिला चिकित्सालय में उपचार के साथ नियमित रूप से 5 से 6 घंटे ध्यान और योगा करते रहे और उसी के बल पर एवं समय पर सही उपचार मिलने के कारण प्रकाश स्वामी 9 अक्टूबर को पुनः निगेटिव हुए और अस्पताल प्रबंधन के कोविट यूनिट ने उन्हें शुभकामनाएं देकर विदाई दी। 18 अक्टूबर 1944 को जन्मे स्वामी प्रकाशचंद्र जैन रविवार को 76 वर्ष के हुए, जिसकी खुशी में उनकी पत्नी पुन्यकुमारी जैन, बेटा बहू संगीता दीपकराज जैन,दीप्ती दिलीप राज जैन, याशिका, यशराज जैन,आस्था जैन एवं डॉ. कविता इंजी.पराग जैन ने घर पर ही पूजा पाठ का आयोजन कर जन्म दिवस की खुशियां मनाई ।

पांच दिवसीय प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की शुरुआत आज से

जुन्नाारदेव। पालाचौरई (बस्ती) में पंच दिवसीय प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की विधिवत शुरुआत सोमवार से हो जाएगी। पूरे पांच दिवस निर्धारित किए गए आयोजन पूर्ण किए जाएंगे, जिसकी मंदिर समिति से लेकर क्षेत्र के युवाजनों ने तैयारी पूरी कर ली है, इसके लिए मंदिर परिसर एवं आस-पास के क्षेत्र को बड़े ही बेहतर ढंग से सजाया गया है, एवं झंडों एवं बैनर से समूची बस्ती को पाट दिया गया है। इस पूरे पांच दिवस चले इस कार्यक्रम में सोमवार को श्री गणेश एवं पंचाग पूजन मंडम स्थापना एवं जलाधिवास, मंगलवार को मूर्ति स्नान एवं अन्नााधिवास, 21 अक्टूबर बुधवार को पूजन स्नान, मिष्ठान भोग, 22 अक्टूबर, गुरूवार को पूजन स्नान, नेत्रोन्मूलन, नगर भ्रमण, एवं अंतिम दिवस 23 अक्टूबर, शुक्रवार को पूजन प्रतिष्ठा एवं हवन का कार्यक्रम निर्धारित है।

2601 मनोकामना कलशों की लौं से जगमगा रहा मां हिंगलाज मंदिर

फोटो 12

मां हिंगलाज शक्तिपीठ में जल रहे कलश

जुन्नाारदेव। सतपुड़ा की सुरम्य वादियों में बसा अंबाड़ा स्थित प्रसिद्ध मां हिंगलाज शक्ति पीठ शारदीय नवरात्र में 2601 मनोकामना कलशों की लौं से जगमगा रहा है। इसके अलावा समूचे मंदिर परिसर को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। सुबह व शाम होने वाली आरती के साथ ही सारा वातावरण धर्ममय बना हुआ है। गौरतलब है कि नवरात्र शुरू होते ही क्षेत्र में चारों ओर माता के जयकारे गूंजने लगते हैं, लेकिन मां हिंगलाज मंदिर का दृश्य अलग ही नजर आता है। यहां पर चैत्र एवं शारदीय नवरात्र में 4 हजार से 5 हजार तक मनोकामना कलशों की स्थापना की जाती थी। इसके अलावा दोनों पहर विशाल भंडारे का आयोजन किया जाता था। इस भंडारे में हजारों लोग उपस्थित होकर प्रसाद ग्रहण करते थे, लेकिन कोरोना काल को देखते हुए प्रशासन द्वारा जारी किए गए निर्देशों का पालन करते हुए श्री श्री मां हिंगलाज मंदिर समिति के द्वारा श्रद्धालुओं के लिए व्यवस्था बनाई जा रही है। नवरात्र में भक्तों के लिए पूजन, पाठ वा दर्शन के लिए समिति के द्वारा निर्देश जारी किए गए हैं जिसमें मंदिर में प्रवेश से पहले हाथों को सेनीटाइज करने के अलावा मास्क पहनना आवश्यक है इसके अलावा प्रसाद चढ़ाने पर भी पाबंदी लगाई गई है।

--

डीआइजी अनिल माहेश्वरी पहुंचे राखिकोल वाटरफॉल

भाजपा के विधानसभा प्रभारी आशीष ठाकुर ओर भाजपा के नेता रहे मौजूद

जुन्नाारदेव/दमुआ। छिंदवाड़ा रेंज के डीआइजी अनिल माहेश्वरी निजी दौरे के तहत जुन्नाारदेव विधानसभा क्षेत्र के राखिकोल स्तिथि घोघरा वाटरफॉल पहुंचे और प्रकृति की अनूठी छटा को अपने आप मे समेटे वाटर फॉल का निरीक्षण किया। ज्ञात हो कि श्री माहेश्वरी प्रकृति प्रेमी माने जाते हैं और वे अपने व्यस्त शेड्यूल में भी प्रकृति के करीब पहुंचने के लिए समय निकाल ही लेते हैं। वे लगभग 3 घंटे तक दमुआ थाने क्षेत्र की सीमा में रहे। इस दौरान उनके साथ भाजपा के विधानसभा प्रभारी आशीष ठाकुर, मंडल महामंत्री मनोज दावंडे, भाजपा नेता आलोक श्रीवास्तव सूरज चौधरी, सोनू पाटिल सहित डीएसपी एसके सिंह, जुन्नाारदेव टीआइ राजेंद्र बिसेन, दमुआ टीआइ कोमल दियावार मुख्य रूप से मौजूद थे।

नारद मोह की लीला से जुन्नाारदेव की ऐतिहासिक रामलीला मंच पर मंचन का श्री गणेश हुआ

जुन्नाारदेव।नवरात्रि के प्रथम दिवस दुर्गा प्रतिमा की स्थापना पूजन आरती के बाद किरीट पूजन कर भव्य और ऐतिहासिक रामलीला मंच पर नारद मोह का मंचन किया गया। मायापति श्री हरि की माया से कौन बच पाया है सो नारद जी जैसे ब्रम्ह ऋषि भी नही बच पाए तो अन्य साधारण मनुष्य की क्या बिसात है। ब्रम्ह ऋषि नारद को हिमालय की सुंदर कंदराओं मे ध्यानस्थ और गहन समाधि में लीन देखकर इंद्र को अपना साम्राज्य हाथ से जाता दिखलाई दिया और तब कामदेव आदि को नारद की तपस्या भंग करने का आदेश दिया, विफल और विकल कामदेव क्षमा याचना कर अपने प्राण बचाकर भाग आना और नारद जी को इस बात का अहंकार हो जाना और नारद जी द्वारा तीनो देव को अहंकारपूर्वक अपनी विजय गाथा का बखान करना श्री हरि द्वारा माया नगर बसाना और वहां की राजकुमारी विश्वमोहनी के प्रति आशक्ति ही नारद का मोह की कथा है जिसे नारद बने नितिन बत्रा ने अपने पिता स्व. रामशरण बत्रा की भांति बहुत ही सुंदर ढंग से मंच पर जीवंत किया।

--

यातायात व्यवस्था बनाने हाट दिवस पर थाना प्रभारी ने संभाली कमान

जुन्नाारदेव । रविवार हाट बाजार के दिन और तीज त्योहार के मद्देनजर जुन्नाारदेव थाना प्रभारी राजेंद्र सिंह बिसेन ने खुद शहर की यातायात व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए पुराने बस अड्डे पर बिखराकर टोकनी, छिटुआ, टोकरी, झाड़ू, बहारी बेचने वालों को यथा स्थान सीमा के भीतर की हिदायत देकर अवरुद्ध हो रहे ट्रैफिक को ठीक करवाया। वहीं गांधी चौक से डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी चौक, डॉ. भीमराव आंबेडकर चौक, पुलिस स्टेशन रोड पर दुकानदारों के बिखरे सामानों को भीतर करवाया गया, उधर निर्माण कार्य की साम्रगी सार्वजनिक स्थानों पर तितर बितर को तत्काल हटवाया गया और आम रोड को व्यवस्थित करवाया। थाना प्रभारी के साथ मुहिम में प्रधान आरक्षक योगेंद्र सिंह राजपूत,आरक्षक रवि शामिल थे।

गुंजित डेहरिया ने नीट की परीक्षा में सफलता हासिल की

जुन्नाारदेव। इस वर्ष आयोजित हुई नीट की परीक्षा में कन्हान व्हेली स्कूल के छात्र और शिक्षक विनोद डेहरिया और आशा डेहरिया के पुत्र गुंजित डेहरिया एवं प्रीति चौहान पिता मोहन चौहान ने अपने प्रथम प्रयास में बिना किसी कोचिंग के नीट की परीक्षा में सफलता हसिल कर अपने परिवार और विद्यालय को गौरवान्वित किया है। इन दोनों बच्चों की सफलता को देखते हुए विद्यालय के प्राचार्य सहित प्रबंध समिति ने बच्चों ओर उनके परिवारों को बधाई प्रेषित कर बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020