छिंदवाड़ा। जिले में प्रायवेट पैथलॉजी लैबों की मनमानी पर कलेक्टर सौरभ सुमन ने सभी निजी लैबों की जांच के आदेश सीएमएचओ डॉ जीसी चौरसिया को दिए थे। जिसके बाद सीएमएचओ ने एक टीम बनाई जो लगातार पैथलॉजी लैबों की जांच करने निकल रही हैं। मंगलवार को जांच के दौरान पैथलॉजी लैबों में भारी लापरवाही देखने को मिल रही है। मंगलवार को टीम द्वारा पाथकाइड कलेक्शन सेंटर छिंदवाड़ा, हैल्थकेयर पैथालॉजी परासिया मार्ग, सांई पैथालॉजी बस स्टैंड, परख पैथालॉजी परासिया मार्ग का निरीक्षण किया गया। जांच के दौरान सबसे बड़ी लापरवाही तो यह देखने को मिली कि जांच रिपोर्ट बनने से पहले ही रिपोर्ट कार्ड पर पैथालॉजिस्ट के हस्ताक्षर मौजूद थे। इसके साथ ही पैथालॉजी की जांच की दरों का समुचित स्थानों पर प्रदर्शन ना होना, बॉयोमेडिकल वेस्ट की समुचित प्रबंधन नहीं होना, कुछ पैथालॉजी लैब में योग्य लैब टेक्नीशियन नहीं पाए गए, कुछ लैब में पैथालॉजिस्ट चिकित्सक उपस्थित नहीं पाए गए, कुछ पैथालॉजी लैब का जिन चिकित्सकों के नाम से पंजीयन है वह छिंदवाड़ा में निवासरत नहीं पाए गए, कुछ पैथालॉजी लैब में पैथालॉजिस्ट के हस्ताक्षर नहीं थे तथा कुछ लैब में जांच रिपोर्ट से पूर्व ही पैथालॉजिस्ट के हस्ताक्षर कॉपी पेस्ट पाए गए, इसके अलावा टीम को पैथालॉजी लैबों में कई खामियां पाई गई। जिन्हें सीएमएचओ द्वारा नोटिस जारी कर जबाव मांगा गया है। निरीक्षण के दौरान जिन पैथालॉजी लैबों एवं कलेक्शन सेंटर में पर्याप्त दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराए जाएंगे एवं पाई गई कमियों को शीघ्र पूरा नहीं करने की स्थिति में विधि सम्मत कार्रवाई प्रस्तावित स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जाएगी। निरीक्षण दल में डॉ रंजना टांडेकर, पैथालॉजिस्ट जिला अस्पताल, डॉ प्रमोद वासनिक जिला मीडिया अधिकारी शामिल थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local