सौंसर। विश्व को करुणा, मैत्री, शांति, अहिंसा, समता, बंधुता, न्याय और स्वतंत्रता का संदेश देने वाले बुद्ध व करोड़ों शोषित पीड़ित, सर्वहारा वर्ग व नारी जाति के मुक्तिदाता भारतीय संविधान के शिल्पकार डा बाबासाहब आंबेडकर के बताए अनमोल मार्गो, विचारों को अंगीकार कर कार्यो में बुद्ध होने चाहिए। उक्त उद्गार बुद्ध जयंती पर आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर लोगों द्वारा रखे गए। आंबेडकर नवयुवक मंडल, भारतीय बौद्ध महासभा, समता सैनिक दल, रमाबाई आंबेडकर महिला मंडल के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार को सुबह 10 बजे बुद्ध विहार सौंसर में तथागत भगवान बुद्ध की 2566 वी जयंती हर्ष और वैचारिक स्तर पर मनाई गई। इस अवसर पर बौद्ध विहार में समता सैनिक दल के ध्वज व पंचशील धम्मध्वज का ध्वजारोहण कर सामूहिक रूप से बुद्ध वंदना ली गई। इस अवसर पर अनुयायियों की उपस्थिति में बुद्ध विहार से डा आंबेडकर तिराहा स्थित बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा तक पथ संचलन कर बाबा साहेब आंबेडकर जी की प्रतिमा व के पटांगण स्थित बुद्ध प्रतिमा समक्ष मोमबत्ती प्रज्ज्वलित कर माल्यार्पण पुष्प अर्पित कर सामुहिक बुद्ध वंदना हुई। वहीं बुद्ध की जयंती वैशाख पूर्णिमा के उपलक्ष्‌य पर सभी को हार्दिक मंगलमय बधाइयां प्रेषित की गई। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में बौद्ध आंबेडकर अनुयाई महिला पुरुष, युवा आदि मौजूद थे।

बुद्ध पूर्णिमा पर सामूहिक यज्ञ

फोटो-03, पेंशनर्स सदन में सामूहिक यज्ञ करते हुए समिति के सदस्य। नवदुनिया।

भारत स्वाभिमान न्यास छिंदवाड़ा एवं पतंजलि योग समिति के संयुक्त तत्वावधान में पेंशनर्स सदन में बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर सामूहिक यज्ञ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में समिति के समस्त सदस्यों ने सहभागिता की एवं सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि माह के प्रथम रविवार सामूहिक यज्ञ कार्यक्रम रखा जाएगा। यज्ञ कार्यक्रम हेतु यज्ञ संचालन समिति का गठन किया गया है। कार्यक्रम में भारत स्वाभिमान न्यास महामंत्री संगीता बेंडे, पंतजलि योग प्रभारी शशि तिवारी आदि बड़ी संख्या में योग साधक सम्मिलित रहे एवं कार्यक्रम का समापन हनुमान चलीसा के साथ किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close