छिंदवाड़ा, नवदुनिया प्रतिनिधि। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने छिंदवाड़ा में ओलावृष्टि और अतिवृष्टि से प्रभावित किसानों के खेतों का दौरा किया। उन्होंने किसानों को आश्वास्त किया कि फसलों को हुए नुकसान का उचित मुआवजा दिलाने के लिए भोपाल पहुंचकर लड़ाई लडूंगा। उन्होंने प्रेस से चर्चा में कहा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान घोषणा करने में माहिर है, उन्होंने अभी तक कितनी घोषणा की उन्हें भी पता नहीं होगा। मेरे जिले के किसानों की फसलें बर्बाद हुई है और अभी तक उन्हें प्रदेश सरकार से कोई राहत नहीं मिली।

बता दें कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ छिंदवाड़ा प्रवास पर है। सरकार के द्वारा बनाई गई शराब नीति पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा सरकार चाहती है कि लोग शराब के नशे में रहें, ताकि सच्चाई न जान सकें।

प्रदेश की भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आड़े हाथों लेते हुए उन्‍होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान घोषाणा करने में माहिर है। उन्हें खुद नहीं पता कि अभी तक वह कितनी घोषणाएं कर चुके हैं। ओलावृष्टि और अतिवृष्टि से मेरे छिंदवाड़ा जिले के किसानों की फसलें बर्बाद हुई। अभी तक कितना और किस स्तर का सर्वे हुआ है यह भी मैंने देखा है। वर्ष 2020 में किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा किसानों को आज तक सरकार नहीं दे पाई है, अब इस वर्ष हुए नुकसान का मुआवजा कब तक मिलेगा कहा नहीं जा सकता, लेकिन ये मेरे जिले के मेरे अपने किसान भाई है, इनसे मेरा आज का नहीं पुराना रिश्ता है। आज मैंने जिले के प्रभावित किसानों के खेतों का दौरा किया है कि अब यहां से भोपाल पहुंचकर किसानों को जल्द से जल्द मुआवजा दिलाने के लिए लड़ाई लडूंगा। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने तामिया, जुन्नारदेव और अमरवाड़ा ब्लॉक के प्रभावित किसानों के खेतों का दौरा किया साथ ही क्षेत्र के किसानों, गांव के लोगों से चर्चा की उनकी समस्याएं सुनी और उसके निराकरण के लिए आश्वस्त किया।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local