मोतियाबिंद ऑपरेशन के लिए 21 मरीज जबलपुर रवाना

बिछुआ। मध्यप्रदेश शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग से प्राप्त दिशा निर्देशों के परिवार पालन में शक्रवार के दिन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछुआ में जिला चिकित्सा अधिकारी के निर्देशन विकासखंड चिकित्सा अधिकारी डॉ चंद्रकांत दुबे के नेतृत्व में वृहद जनों की आंखों की समस्याओं को देखते हुए निःशुल्क मोतियाबिंद परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया। सहायक नेत्र चिकित्साक डॉ डीएस उमरेठे ने जानकारी देते हुए बताया की इस निःशुल्क मोतियाबिंद उपचार शिविर में बिछुआ के कोने-कोने से लोग पहुंचे और शिविर में अपनी आंखों की जांच कराई। इस निःशुल्क मोतियाबिंद परीक्षण शिविर में पूर्व विधायक प्रतिनिधि इन्द्रपाल सिंह पटेल, प्रीतम सिंह पटेल, पत्रकार उमेश साहू सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने अपनी उपस्थिति देकर मरीजों को बेहतर इलाज देने के लिए डाक्टरों से चर्चा की है। बीएमओ डॉ चंद्रकांत दुबे ने जानकारी देते हुए बताया कि मोतियाबिंद शिविर में 229 मरीज अपनी जांच कराने पहुंचे थे। 47 मरीजों को मोतियाबिंद की समस्या से ग्रस्ति होने पर निःशुल्क उपचार हेतु चयनित किया गया। शिविर को सफल बनाने में देवजी नेत्रालय जबलपुर एवं समता फाउंडेशन मुम्बई का विशेष योगदान रहा है। समता फाउंडेशन मुम्बई के शिविर के आयोजन को लेकर क्षेत्र में प्रचार प्रसार किया गया था। क्षेत्र में प्रचार प्रसार अच्छा होने के कारण बड़ी संख्या में मरीज परीक्षण कराने शिविर में पहुंचे थे। शिविर में डॉक्टर दादा वीरेन्द्र नेत्र संस्थान जबलपुर के डॉ पवन स्थापक, डॉ. चंद्रकांत दुबे, श्रीमति दुबे, सहायक नेत्र चिकित्साक डॉ.डीएस उमरेठे, मिथुन मास्तकर सहित केंद्र में डॉक्टरों व स्टाफ कर्मियों ने अपनी सेवाएं दी गई। मोतियाबिंद के निःशुल्क ऑपरेशन के लिए चिन्हित 47 मरीजों में से 21 मरीजों को शुक्रवार की दोपहर को जबलपुर के रवाना किया गया।

शिविर में इन गांव से पहुंचे थे मरीज

आयोजित निःशुल्क मोतियाबिंद परीक्षण शिविर में बिछुआ, खमरा, खमारपानी, लोहांगी, किसनपुर, झामटा, आमाझिरीखुर्द, धनेगांव, थोटाामाल, पाथरी, गुमतरा, जैतपुर सहित विकरसखंड के अंधिकांश ग्रामों से मरीज इस शिविर में पहुंचे थे। मरीजों के साथ परिजनों की भारी संख्या में भीड़ देखनें को मिली।

Posted By: Nai Dunia News Network