छिंदवाड़ा । बाघ की खाल का सौदा करने के पहले ही वन अमले ने तीन लोगों को पकड़कर उनके कब्जे से खाल बरामद की है। तीनों आरोपियों का कहना है कि उन्हें यह खाल किसी ओर व्यक्ति ने दी है। बहरहाल वन अमला मामले की जांच करने के साथ ही उन आरोपियों की तलाश में जुट गया है, जिन्होंने तीनों आरोपियों को खाल दी है।

वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार सूचना मिली कि अमरवाड़ा की ओर से तीन युवक बाघ की खाल लेकर छिंदवाड़ा आ रहे हैं, जो खाल का सौदा करने वाले हैं। इस सूचना के बाद वन अमले ने सीसीएफ बंगले के सामने बाइक पर तीन लोगों को रोककर जब उनकी तलाशी ली तो बाघ की खाल मिली।

वन अमले ने तत्काल ही तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने अपने नाम गणेश, महीलाल और अशोक निवासी बगलामाल बताए हैं। पूछताछ में इन आरोपियों ने बताया कि उन्हें किसी ओर से बाघ की खाल मिली है। जिसका सौदा करने के लिए वे जा रहे थे।

हालांकि इस मामले की जांच विभागीय टीम द्वारा की जा रही है। गौरतलब है कि भोपाल एसटीएफ ने 17 अगस्त को लिंगा के पास तेंदुए की दो खाल सहित 20 से अधिक नाखून जब्त किए थे। इसके अलावा जुलाई में पुलिस एवं वन विभाग की संयुक्त टीम ने भी गुरैया के समीप रानी कामथ गांव से बाघ्ा की खाल जब्त की थी।

मामले की जांच कर रहे हैं

मामले की जांच कर रहे हैं फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। बाघ का शिकार कहां और किस तरह से किया गया, इस बात की जांच चल रही है। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

एसएस उद्दे, डीएफओ पूर्व वनमंडल, छिंदवाड़ा


थथथथ

इीर्ॅािि घीाचैनज थ

ऽऽऽऽ

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020