भितरवार। नईदुनिया न्यूज

भितरवार नगर स्थित मां पार्वती गौशाला में गोपाष्टमी के पर्व पर नगर एवं अंचल के गौ सेवकों ने गाय और बछड़ा पूजन कर गोपाष्टमी पर्व मनाया। साथ ही गौशाला में रह रहे निराश्रित गोवंश के साथ नगर के दो गौ सेवकों ने अपना जन्मदिन भी गौशाला में ही मनाया। रविवार को गौमाता और ग्वालों की पूजा को समर्पित गोपाष्टमी का पर्व मनाने के लिए दर्जनों की तादाद में नगर और अंचल के गौ सेवक भितरवार नगर परिषद की मां पार्वती गौशाला पहुंचे। जहां उन्होंने नगर परिषद के कर्मचारियों के सहयोग से रह रहे निराश्रित गोवंश को स्नान करा कर हल्दी, रोली, चावल लगा कर तिलक किया। तत्पश्चात पुष्प हार पहनाकर पहनाकर पूरे विधि विधान के साथ पूजन किया। साथ ही गुड़ और रोटी खिलाकर क्षेत्र की सुख समृद्धि की कामना गौमाता से की। इस दौरान प्रमुख रूप से उपस्थित मुख्य नगरपालिका अधिकारी सतीश कुमार दुबे ने भी गौ पूजन करते हुए कहा कि कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को गोपाष्टमी उत्सव मनाया जाता है। इस दिन गाय, बछड़े और वालों की विशेष पूजा किए जाने का प्रावधान है। भगवान श्री कृष्ण कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा से लेकर सप्तमी तक इंद्र के प्रकोप से गोप-गोपियों की रक्षा के लिए गोवर्धन पर्वत को अपनी कनिष्ठ अंगुली पर धारण किया था। अष्टमी के ही दिन इंद्र ने अपनी पराजय स्वीकार कर ली थी। इस अवसर पर प्रमुख रूप से उदय भान सिंह रावत, महेश शर्मा, केशव सिंह यादव, श्री कृष्ण यादव, जीतू किरार, जयंत सिंह यादव, सुनील यादव, आशीष जैन, राकेश रावत, रिक्की रावत, अनिल बाल्मीकि, रामस्वरूप बाल्मीकि सहित कई लोग उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस