डबरा, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के नजदीक और अंचल में कई जगहों पर अवैध शराब बिक रही है। अलग-अलग ठिकाने बनाकर कच्ची शराब की दुकानें संचालित की जा रही हैं। इस अबैध कारोबार को रोकने के लिए न तो आबकारी विभाग कार्रवाई कर रहा है न ही पुलिस ध्यान दे रही है। इधर दर्जनों गांवों में कच्ची शराब को काला कारोबार चल रहा है। चीनोर थाना क्षेत्र की ककरधा की पुलिया पर कंजर जाति की महिलाओं के द्वारा खुलेआम हाथ भट्टी शराब बेची जा रही है। आबकारी और पुलिस मौन साधे हुए है। इधर भितरवार रोड़ किनारे अवैध शराब की दुकानें लगी रहती हैं। इस कच्ची शराब के अवैध कारोबार के चलते दर्जनों गांव के युवा शराब की चपेट में आ रहे हैं। इधर विभागीय अधिकारियों का कहना है कि अवैध शराब के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है।

ठिकाने तक नहीं पहुंच पाएं इसलिए लगा दिया गेट

माफियाओं तक पुलिस और आबकारी विभाग ना पहुंच सके इसके लिए मुख्य मार्ग पर गेट लगाकर ताला तक लटका दिया है। ये रास्ता डबरा जेल के पीछे का है। जहां अधिकतर सिख समुदाय के डेरे बने हुए हैं। जहां कुछ लोगों द्वारा अवैध शराब का काला कारोबार किया जाता है। पुलिस और आबकारी की कार्रवाई से बचने के लिए उन्होंने मुख्य रास्ते पर गेट लगाकर तालाबंदी कर दी। जिससे आम लोगों को भी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। लोगों का कहना है कि ऐसे दबंगों पर कार्रवाई होनी चाहिए।

अवैध शराब के खिलाफ हमारी लगातार कार्रवाई होती रही है। कुछ जगहों पर कच्ची शराब बनाई जा रही है तो हम जरूर करवाई करेंगे। - अमीन खान, उप निरीक्षक, आबकारी विभाग डबरा

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस