भितरवार। नईदुनिया न्यूज

प्रशासन द्वारा की जा रही तानाशाही के खिलाफ अभिभाषक संघ जिला ग्वालियर के आह्वान पर नगर के वकीलों ने भी व्यवहार न्यायालय से लेकर तहसील न्यायालय तक कामकाज बंद रखा और विरोध प्रदर्शन किया।

गौरतलब है कि सोमवार को अभिभाषक संघ अध्यक्ष राजेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में सभी अभिभाषकों ने सर्वप्रथम व्यवहार न्यायाधीश वर्ग एक और वर्ग दो एवं अनुविभागीय अधिकारी न्यायालय के साथ तहसील न्यायालय पहुंचकर न्यायालयीन कार्यो से विरक्त रहने का संबंधित न्यायाधीशों को सूचना पत्र प्रदान किया। अभिभाषक संघ भितरवार द्वारा सौंपे गए सूचना पत्र में बताया गया है कि उच्च न्यायालय अभिभाषक संघ अध्यक्ष विनोद कुमार भारद्वाज से प्राप्त निर्देशों के आधार पर न्यायालयीन प्रक्रिया से विरक्त रहकर प्रशासन की तानाशाह मानसिकता के खिलाफ आक्रोश प्रकट करें। साथ ही जिक्र किया गया है कि अधिवक्ता सौरव भटेले को प्रशासन ने धारा 151 सीआरपीसी में तहसीलदार न्यायालय ग्वालियर के समक्ष जमानतदार होने के बाद भी निरोध में भेज दिया है। प्रशासन के मनमाने रवैए के खिलाफ उच्च न्यायालय अभिभाषक संघ इस तानाशाह रवैए की घोर निंदा करता है। अभिभाषक संघ की हड़ताल पर चले जाने के कारण न्यायालयों में प्रचलित पक्षकारों की पक्षों की पैरवी और सुनवाई नहीं हो सकी। इसके चलते कई पक्षकार दूरदराज के गांवों से आकर इधर-उधर भटकते हुए नजर आए। उन्हें अभिभाषकगणों द्वारा आगामी तारीख पेशी पर आने की बात कही। इस अवसर पर अभिभाषक संघ के अध्यक्ष राजेंद्र शर्मा, अरुणकांत शर्मा, रतन सिंह यादव, रामनिवास सिंह गुर्जर, अनिल कुमार नामदेव, विशाल सिंह रावत, जितेन्द्र सिंह रावत, बसंत शर्मा, मदनलाल कुशवाह, सतीश दुबे, राकेश शर्मा, भंवर सिंह चौहान आदि अभिभाषक उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket